DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माया के बंगले पर पुलिस बिठाएगी सरकार, बसपा का विरोध दरकिनार

माया के बंगले पर पुलिस बिठाएगी सरकार, बसपा का विरोध दरकिनार

उत्तर प्रदेश सरकार ने बसपा का विरोध दरकिनार करके पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के आवास 13 माल एवेन्यू के पास पुलिस चेक पोस्ट बनाने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इन फैसलों से संबंधित प्रस्तावों को मंजूरी दी गई।

बसपा नेताओं ने बसपा प्रमुख मायावती के आवास के पास रेलवे लाइन की ओर के तीन कमरों को पुलिस चेक पोस्ट बनाने का विरोध किया था। उनका आरोप था कि सपा सरकार ऐसा करके बसपा प्रमुख की जासूसी कराना चाहती है। कैबिनेट के फैसले में कहा गया है कि रेलवे लाइन की ओर के तीन कमरे जिला प्रशासन की रिपोर्ट के अनुरूप पुलिस चेक पोस्ट के रूप में उपयोग के लिए गृह विभाग को दे दिए जाएंगे। बसपा इस प्रस्ताव का विरोध कर रही थी लेकिन सरकार ने बसपा के विरोध की चिंता किए बगैर फैसला कर लिया है।

इसके साथ ही सरकार ने बसपा के विधान परिषद सदस्य लोकेश प्रजापति व अन्य सदस्यों की मांग पर मायावती के आवास के सामने सर्विस रोड पर बने तीन कमरों को तोड़ने का फैसला किया है। प्रजापति ने यह मामला विधान परिषद में उठाया था। रेलवे ओवरब्रिज बनने के बाद इन कमरों की बिजली और पानी काट दिए गए थे जिससे वहां अंधेरा पड़ा रहता था। इससे बसपा प्रमुख मायावती की सुरक्षा को खतरा था।
 
इन कमरों को तोड़ने के लिए विधान परिषद में नेता सदन अहमद हसन ने आश्वासन दिया था। अब लोरेटो चौराहे की ओर से चिन्हित इन तीन कमरों को तोड़ने पर कैबिनेट ने स्वीकृति की मुहर लगा दी है। सरकार के फैसले में कहा गया है कि इन कमरों को तोड़े जाने से यातायात सुगम होगा। इन कमरों का निर्माण आवास एवं शहरी नियोजन विभाग ने कराया था। इसलिए कमरों को तोड़ने तोड़ने संबंधी आगे की कार्रवाई भी आवास विभाग करेगा।

सरकार के अधिकृत सूत्रों का भी कहना है कि बसपा सदस्यों ने नियम-105 के तहत इस बारे में सूचना दी थी जिस पर विचार करने के बाद आवश्यक प्रक्रियाओं का पालन करते हुए इन तीन कमरों को तोड़ने का फैसला लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माया के बंगले पर पुलिस बिठाएगी सरकार, बसपा का विरोध दरकिनार