DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी भाजपा खोलेगी पार्टी कार्यालय, जमीन तलाशने की तैयारी

भारतीय जनता पार्टी में आंतरिक गुटबाजी को थामने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर कवायद शुरू हो गई है। अब मंत्रियों, सांसदों और विधायकों के घरों से पार्टी के दफ्तर नहीं चलेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने प्रदेश भर में पार्टी के नाम से अलग कार्यालय खोलने के निर्देश दिए हैं।

पूरे प्रदेश कार्यालयों की बिल्डिंग एक जैसी होगी। इसको लेकर प्रदेश कोषाध्यक्ष और कैंट विधायक राजेश अग्रवाल को दिल्ली बुलाया गया है। उन्हें फंड की व्यवस्था करने को भी कहा गया है।

बरेली जैसे मंडल स्तर पर पार्टी के दो कार्यालय होंगे। इसमें जिला और महानगर संगठन एक कार्यालय में बैठेगा। क्षेत्रीय बैठकें और मंडल स्तर के कार्यक्रम अलग कार्यालय में होंगे। जिन जिलों में पार्टी के पास जमीन नहीं है। वहां जमीन खरीदने को कहा गया है।

जहां जमीन है, वहां बिल्डिंग बनाने की तैयारी शुरू होगी। जिला संगठन के अलावा पार्टी फंड से भी कार्यालय खोलने के लिए धन की व्यवस्था की जाएगी।

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक संगठन ने माना कि सत्ता में आने के बाद पार्टी में गुटबाजी और बढ़ गई है। मंत्री और सांसद अपने घरों, कार्यालयों से पार्टी संगठन चला रहे हैं। यहां तक कि जिला स्तर के संगठन पदाधिकारी मंत्रियों और सांसदों के घरों पर पड़े रहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी भाजपा खोलेगी पार्टी कार्यालय, जमीन तलाशने की तैयारी