DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी के मंत्री पर लगा पत्रकार को जलाकर मारने का आरोप

यूपी के मंत्री पर लगा पत्रकार को जलाकर मारने का आरोप

प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री और ददरौल के सपा विधायक राममूर्ति सिंह वर्मा जागेंद्र सिंह की मौत के मामले में फंस गए हैं। जागेंद्र के बेटे राघवेंद्र ने खुटार थाने में राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा समेत छह लोगों के खिलाफ पिता जागेंद्र्र सिंह की हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। मंत्री पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है।

जागेंद्र के बेटे राघवेंद्र का आरोप है कि दुराचार का आरोप लगाने वाली महिला की मदद करने से राज्य मंत्री वर्मा उनके पिता जगेंद्र से काफी नाराज थे। मंत्री के कहने पर चौक कोतवाल श्रीप्रकाश राय एक जून को दोपहर तीन बजे शाहजहांपुर के आवास विकास स्थित उनके घर पर पहुंचे और पिता को गंदी गालियां दीं। इसके बाद कोतवाल और अन्य पुलिसवालों ने उन्हें पकड़ लिया और पेट्रोल डाल कर आग लगा दी। राघवेंद्र ने कहा कि पिता जागेंद्र काफी जल गए और लोग इस दौरान लोग भी जमा होने लगे तो पुलिस ने पिता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जिला अस्पताल से उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया, जहां सोमवार को उनकी मौत हो गई।

राघवेंद्र ने राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा, चौक कोतवाल रहे श्रीप्रकाश राय, अमित प्रताप सिंह भदौरिया, गुफरान, आकाश गुप्ता, तीन-चार सिपाहियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 504, 506 और 120बी के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।

मूल रूप से खुटार के कोट मोहल्ला निवासी जागेंद्र सिंह
पिछले दस साल से शाहजहांपुर में रह रहे थे। वे लखनऊ के एक साप्ताहिक समाचार पत्र से जुड़े थे। अभी कुछ दिन पहले एक आंगनबाड़ी कार्यकत्री ने राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा, चौक कोतवाल श्रीप्रकाश राय, अमित प्रताप सिंह भदौरिया, गुफरान समेत चार लोगों पर सामूहिक दुराचार करने का मुकदमा दर्ज कराने के लिए सीजेएम कोर्ट में अर्जी दी थी। जागेंद्र सिंह इस मामले में महिला की मदद कर रहे थे। इससे पहले अमित प्रताप सिंह भदौरिया ने जागेंद्र और उनके साथियों पर हत्या के प्रयास का मुकदमा भी चौक कोतवाली में दर्ज कराया था।

राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा व अन्य के खिलाफ दर्ज मुकदमे की विवेचना सदर बाजार थाने की पुलिस करेगी। पहले पूरे प्रकरण की जांच होगी, जो भी दोषी होगा, उस पर कार्रवाई की जाएगी।
बबलू कुमार एसपी, शाहजहांपुर

जागेंद्र सिंह के प्रकरण से मेरा कोई मतलब नहीं है। बेजा फंसाए जाने की कोशिश हो रही है। राजनीति में मेरे बढ़ते कद को रोकने के लिए विरोधियों ने मेरे खिलाफ साजिश रची है। मुझे ईश्वर और न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा है। जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।
राममूर्ति सिंह वर्मा राज्यमंत्री, पिछड़ा वर्ग कल्याण उत्तर प्रदेश

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी के मंत्री पर लगा पत्रकार को जलाकर मारने का आरोप