DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिता की उम्र का दूल्हा देख मंडप से उठ गई दुल्हन

नाबालिग बेटी ने साहस दिखाते हुए खुद की जिंदगी बर्बाद होने से तो बचा ही ली, घर वालों को बाल विवाह के अपराध से भी रोक लिया। पिता की उम्र का दूल्हा देख उसने शादी से इनकार कर दिया और बारात बैरंग लौटा दी। बारात भी हरियाणा के पानीपत से आई थी, जो इलाका लड़कियों की खरीद-फरोख्त के लिए अक्सर चर्चा में रहता है। पूरा गांव उस लड़की के साहस को सलाम कर रहा है। गांववालों का तो यहां तक कहना है कि उसने माता-पिता के दबाव में आंख मूंद कर हर फै सला कबूल करने वाली लड़कियों को भी ताकत दी है।

चौरीचौरा तहसील क्षेत्र में शुक्रवार की रात हरियाणा के पानीपत से बारात आई थी। बिटिया रात में जब शादी की मंडप में पहुंची तो पिता की उम्र का दूल्हा देख उठ गई। वापस कमरे में चली गई और घर वालों को फैसला सुना दिया कि वह इस व्यक्ति से शादी नहीं करेगी। वहां जुटी कुछ महिलाओं ने उसे समझाने का प्रयास किया, मगर वह अपने निर्णय पर अडिग रही। कुछ लोगों ने जब दबाव बनाने का प्रयास किया तो उसने स्पष्ट कर दिया कि उसे उसकी जिंदगी के फैसले कोई और करे, यह उसे मंजूर नहीं है। अंतत: घर वालों को बारात बैरंग लौटानी पड़ी। गरीब परिवार की आठवीं पास बिटिया की शादी दूर के एक रिश्तेदार ने मध्यस्थता कर पानीपत में एक अधेड़ से तय कराई थी। लड़की ने अपने होने वाले पति को देखा नहीं था। बारात में हरियाणा से आए लोगों की संख्या छह थी। सातवां दूल्हा था। बाद में लड़की ने मध्यस्थ से पूछताछ करने का प्रयास किया तो वह भाग निकला।

लड़की के इस निर्णय को पूरा गांव सराह रहा है। गांव के लोगों का कहना है कि बिटिया के फैसले ने समाज को बड़ा संदेश दिया है। हरियाणा व राजस्थान में लड़कों के मुकाबले लड़कियों की संख्या ज्यादा कम है। ऐसे में वहां लड़कियों की खरीद-फरोख्त के मामले अक्सर सामने आते हैं। इस मामले में भी खरीद-फारोख्त से इनकार नहीं किया जा सकता है। हालांकि घरवाले इस पर चुप्पी साध लिए हैं, लेकिन मध्यस्थ का भागना इन आशंकाओं को बल दे रहा है। बताया जा रहा है कि मध्यस्थ लड़की की दूर की रिश्तेदारी का है, जिसका एक रिश्तेदार पानीपत में रहता है।

तीन बेटियों की शादी की चिंता
लड़की तीन बहने हैं। शादी से इनकार करने वाली नाबालिग बेटी सबसे बड़ी है। परिवार काफी गरीब है। ऐसे में शादी की चिंता भी लाजिमी है। इसी चिंता की वजह से मध्यस्थ परिवार को झांसे में लेने में सफल हो जाते हैं।

इससे पहले भी आ चुके है इस तरह के मामले-
- इसी तहसील क्षेत्र में लोगों ने एक नाबालिग की शादी को पहल करके रोका था। जिसके बाद बाहरी लोग भाग निकले थे।
- इसी इलाके में में दिल्ली से आए लोगों की शादी गांव के लोगों ने रोकी थी। पुलिस ने वहां पर कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया था।
- महराजगंज में भी अभी हाल में गरीब परिवार की एक नाबालिग की शादी हरियाणा में होने का मामला सामने आया था। मामला पुलिस तक भी पहुंचा था, लेकिन लड़की की चुप्पी की वजह से पुलिस से छिपाकर बाद में शादी कर दी गई थी। इसमें बेटी के पिता को 20 हजार रुपए देने की बात सामने आई थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पिता की उम्र का दूल्हा देख मंडप से उठ गई दुल्हन