DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इलाहाबाद के कमिश्नर अवैध खनन कराने के आरोप में सस्पेंड

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की नाराजगी के बाद अवैध खनन कराने के आरोप में इलाहाबाद मंडल के कमिश्नर बृज किशोर सिंह को प्रदेश सरकार ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। लंबे समय के बाद मुख्यमंत्री ने किसी बड़े आईएएस अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है।

मुख्यमंत्री ने सख्त तेवर दिखाते हुए 1997 बैच के आईएएस अधिकारी बृज किशोर को निलंबित किए जाने की गुरुवार को फतेहपुर दौरे के दौरान घोषणा की। इसके बाद देर रात नियुक्ति विभाग ने बृज किशोर सिंह के निलंबन के आदेश जारी कर दिए।

बृज किशोर सिंह पर आरोप लगाया गया है कि जनपद फतेहपुर और कौशांबी में अवैध खनन और अवैध परिवहन के साथ ही ओवरलोडिंग के मामलों में उन्होंने प्रभावी कार्रवाई नहीं की। साथ ही अपने दायित्वों के निर्वहन में गंभीर शिथिलता बरती। इन्हीं सब आरोपों के चलते उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

निलंबन अवधि में बृज किशोर सिंह को राजस्व परिषद लखनऊ से संबद्ध कर दिया गया है। सूत्रों के अनुसार इन पर यह भी आरोप है कि एक दबंग खनन माफिया ने यमुना नदी की मुख्यधारा काटकर पुल बना लिया था और धड़ल्ले से अवैध खनन कर रहा था जिसको इनका संरक्षण प्राप्त था जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री तक पहुंच गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने यह कार्रवाई की।

विदेश दौरे से लौटते ही उन्होंने सख्त तेवर अख्तियार करके यह संदेश देने की कोशिश की है कि किसी ने गड़बड़ की तो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह बात दीगर है कि केंद्र सरकार के नए नियम के अनुसार इस निलंबन की भी सात के बाद सरकार को समीक्षा करनी होगी। अभी तक यह समीक्षा 90 दिन बाद करनी होती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इलाहाबाद के कमिश्नर अवैध खनन कराने के आरोप में सस्पेंड