DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बंधक बना कर रकम ऐंठने में फंसे दरोगा समेत तीन लोग

बंधक बना कर रकम ऐंठने के मामले में दरोगा समेत तीन लोग फंस गए। पुलिस महानिदेशक लखनऊ के आदेश पर पीड़ित महिला की ओर से कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस ने पीड़ित महिला सूरजमुखी पत्नी संजीव कुमार निवासी मोहल्ला चुन्नी की तहरीर के आधार पर प्रवीण रस्तोगी, जेवी सिंह व दरोगा सुधीर कुमार सिंह और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। जिसमें पीड़ित महिला का कहना है कि उसकी एक फैक्ट्री मैंथा प्रोडक्ट की शिव शक्ति इंटर प्राइजेज के नाम से मोहल्ला घटलेश्वर गेट में है।

तत्कालीन दरोगा थाना नखासा जिला संभल, हाल तैनात थाना धामपुर जिला बिजनौर सुधीर कुमार सिंह की निगाहें उसकी फैक्ट्री पर पड़ गई। इसके चलते दरोगा ने 26 नवंबर 2013 को उसके पति संजीव कुमार को धोखे से सरायतरीन के बिजली घर पर बुलाया और इनोवा गाड़ी में डाल कर थाना नखासा ले गए। जहां एक आदमी जेबी सिंह व दो सिपाहियों ने पति को बंधक बना लिया।

दरोगा ने जान से मारने की धमकी देते हुए डेढ़ करोड़ रुपये की मांग की। किसी तरह उसने जेवर बेच कर व बैंक वैलेंस निकाल कर 40 लाख रुपये दे दिए। इसके बावजूद और रुपये देने के लिए दबाव बनाकर दरोगा ने उसकी फैक्ट्री का बैनामा मनोज कुमार शर्मा के नाम 60 लाख रुपये में करा दिया। जबकि फैक्ट्री की कीमत दो करोड़ रुपये है। एक करोड़ रुपया लेने के बावजूद पति को नहीं छोड़ा। पति के खिलाफ 40 ड्रम मैंथा की फर्जी बरामदगी दिखा कर कोतवाली में मुकदमा दर्ज करा दिया। पीड़ित महिला का कहना है कि वह भी अपना मुकदमा दर्ज कराने के लिए कोतवाली गई लेकिन उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई। उसे लगातार धमकी मिल रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बंधक बना कर रकम ऐंठने में फंसे दरोगा समेत तीन लोग