DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नाव में जहरीली शराब से पांच मरे, 11 सस्पेंड

उन्नाव शहर के मोहल्ले जुराखनखेड़ा में जहरीली शराब से पांच लोगों की मौत हो गई। एक को गम्भीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि मोहल्ले में अभी कई लोगों की हालत अभी खराब है। शासन ने आबकारी अधिकारी, विभाग के इंस्पेक्टर व पांच सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने लापरवाही पर सदर कोतवाल व चौकी इंचार्ज के साथ ही दो सिपाहियों को सस्पेंड किया है।

जुराखनखेड़ा निवासी लालचन्द्र (50) की बुधवार दोहपर 12 बजे अचानक हालत बिगड़ी। कानपुर के हैलट अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गई। परिवारीजन शव लेकर घर पहुंचे ही थे कि लालचन्द्र के छोटे भाई छत्तर (45) की भी मौत हो गई। कुछ देर बाद पड़ोस के मंगली (32) के पेट में दर्द हुआ। मुंह से झाग निकलता देख परिवार के लोग जिला अस्पताल ले गए। डॉक्टरों ने कानपुर रिफर किया तो अस्पताल गेट पर उसने भी दम तोड़ दिया। घर के लोग मौत का कारण छिपाते रहे लेकिन मृतक मंगली की भतीजी काजल ने जहरीली शराब पीने का खुलासा कर दिया। मोहल्ले में कई लोगों ने शराब पी थी। उनमें कई की हालत अब भी खराब है लेकिन डर के कारण बाहर नहीं आ रहे हैं।

घटना प्रकाश में आते ही कोतवाली पुलिस मोहल्ले में पहुंची। जांच के दौरान एक 30 वर्षीय अज्ञात युवक का शव नाले के पास बरामद किया। मोहल्ले के लोगों ने उसे मृतक छत्तर का साथी बताया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा ही गया था कि दोपहर दो बजे नजदीक के ही मोहल्ले के राकेश की हालत बिगड़ गई। परिवार के लोग जिला अस्पताल ले गए, जहां इलाज दौरान उसकी भी मौत हो गई।

जहरीली शराब से मौतों पर एसपी ने शहर कोतवाल सतीश कुमार गौतम व चौकी प्रभारी सिविल लाइन्स बलराम यादव समेत दो सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया। सीएम ने मामले पर तुरंत कार्रवाई के आदेश दिए, जिस पर शासन स्तर से आबकारी अधिकारी ज्ञानेन्द्र त्रिपाठी, आबकारी इंस्पेक्टर गिरिराज व पांच सिपाहियों को सस्पेंड किया गया है। सांसद साक्षी महाराज ने मृतक आश्रितों को 10-10 लाख रुपए दिए जाने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उन्नाव में जहरीली शराब से पांच मरे, 11 सस्पेंड