DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खरखौदा में सांप्रदायिक बवाल, दो गांवों में गोलियां चलीं

खरखौदा के गांव बहरानपुर और उल्धन के युवकों के बीच तीन दिन से चल रहे झगड़े ने मंगलवार को सांप्रदायिक बवाल का रूप ले लिया। दोनों गांव के सैकड़ों लोग आमने-सामने आ गए और आधा घंटे तक दर्जनों राउंड फायरिंग हुई। बहरानपुर के एक किसान के परिवार को बुरी तरह पीटा और तीन बाइक को आग के हवाले कर दिया गया। बवाल का पता लगते ही कई थानों की पुलिस फोर्स गांव पहुंची और स्थिति को संभाला।

खरखौदा से उल्धन और बहरानपुर के लिए ऑटो चलते हैं। 30 मई की शाम को ऑटो में सीट पर बैठने को लेकर दोनों गांव के चार युवकों में मारपीट हुई थी। इसमें उल्धन का इमरान और बहरानुपर का भंवर सिंह घायल हो गया था। एक जून को उल्धन के पूर्व प्रधान साजिद के बेटे आकिल और बहरानपुर के एक युवक के बीच मारपीट हो गई थी। इसमें आकिल घायल हो गया था। तभी से दोनों गांवों के लोगों के बीच तनातनी शुरू हो गई।

आरोप है कि मंगलवार शाम उल्धन के लोगों ने बहरानपुर निवासी मलखान सिंह की ट्यूबवेल पर हमला बोल दिया। मलखान और उसकी पत्नी के साथ मारपीट की। उसके पक्ष के लोग यहां बाइक से आए तो इनकी तीन बाइक को आग के हवाले करते हुए युवकों पर हमला कर दिया गया। इन युवकों ने गांव में सूचना दी तो बहरानपुर के सैकड़ों लोग हथियार लेकर यहां पहुंच गए।

उधर, उल्धन से भी लोग हथियार लेकर आ धमके। इसके बाद हालात बिगड़ते गए और घटना ने सांप्रदायिक रूप ले लिया। आधा घंटे तक दोनों पक्षों में गोलियां चलती रहीं। बवाल का पता लगने पर खरखौदा पुलिस यहां पहुंची, लेकिन तमाशबीन बनी रही। पुलिस के सामने भी गोलियां चलती रहीं। एसएसपी और एसपी देहात यहां तीन थानों की पुलिस फोर्स लेकर पहुंचे तब जाकर स्थिति को संभाला जा सका। एसएसपी ने कहा है कि फायरिंग करने वाले दोनों समुदाय के लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। तनाव को देखते हुए दोनों गांवों में पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खरखौदा में सांप्रदायिक बवाल, दो गांवों में गोलियां चलीं