DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिश्वतखोर लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार

बारिश और ओलावृष्टि से तबाह हुए किसानों से रिश्वत लेकर मुआवजे का चेक देने वाले लेखपाल नत्थुलाल को एंटी करप्शन की टीम ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। लेखपाल के खिलाफ नवाबगंज थाने में एफआईआर दर्ज कराई जा रही है।

गौरतलब है कि नवाबगंज के गांव रिछौला के किसान इदरीस की करीब 10 बीघा गेहूं की फसल ओलावृष्टि से बर्बाद हो गई थी। इदरीस और उनका बेटा तौकीर लगातार मुआवजा दिलाने के लिए लेखपाल से गुहार लगा रहा था। लेखपाल ने मुआवजे के चेक देने से पहले दो हजार रुपये की रिश्वत मांगी। तौकीर ने मंगलवार को दो हजार रुपये देने का लेखपाल से वादा कर दिया और इसकी जानकारी एंटी करप्शन को दे दी।

मंगलवार को तहसील दिवस के दौरान ही एंटी करप्शन की टीम ने किसान तौकीर के साथ मिलकर चक्रव्यूह तैयार कर लिया। तहसील दिवस खत्म होने के बाद तौकीर लेखपाल को लेकर जगदीश के होटल पर गया। तौकीर ने जैसे ही दो हजार रुपये दिए, वहां पहले से मौजूद एंटी करप्शन की टीम ने लेखपाल को रंगे हाथ पकड़ लिया। लेखपाल को नवाबगंज थाने में रखा गया है। रात तक केस दर्ज कराने की कार्रवाई चलती रही। एंटी करप्शन की टीम में इंस्पेक्टर विजय राना, सुरेंद्र सिंह, जय नारायण, सिपाही सरफराज और सीमा खान शामिल थीं।

15 दिन पहले ही बहाल हुआ था लेखपाल
लेखपाल नत्थुलाल रिश्वतखोरी के मामले में तीन महीने पहले ही सस्पेंड हुआ चुका है। रिछौला गांव में ही चकरोड पर कब्जा कराने को लेकर नत्थुलाल विवाद में आया था। एसडीएम ने 15 दिन पहले ही लेखपाल बहाल किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रिश्वतखोर लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार