DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2136 निजी कॉलेजों ने मांगी बीटीसी की मान्यता

सूबे के दो हजार से अधिक निजी कॉलेजों ने 2016-17 सत्र से बीटीसी (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट) कोर्स चलाने की अनुमति मांगी है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने 31 मई तक 2136 प्राइवेट कॉलेजों को एनओसी भी जारी कर दिया है।

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने बीटीसी कोर्स चलाने के लिए निजी कॉलेजों से 31 मई तक आवेदन मांगे थे। परीक्षा नियामक प्राधिकारी से एनओसी मिलने के बाद मान्यता जारी करने से पहले अब एनसीटीई की टीम कॉलेजों का निरीक्षण करेगी। सब ठीक रहा तो कोर्स चलाने की अनुमति मिलेगी। प्रत्येक कॉलेजों को 50-50 सीट पर प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।

रजिस्ट्रार परीक्षा नियामक प्राधिकारी नवल किशोर ने बताया कि अधिकांश कॉलेजों ने नवीन मान्यता के लिए आवेदन किया है। जबकि कुछ कॉलेज ऐसे भी हैं जिन्होंने सीटों की संख्या 50 से बढ़ाकर 100 करने की अनुमति मांगी है।

2016-17 सत्र से बीटीसी कोर्स चलाने के लिए दो हजार से अधिक निजी कॉलेजों को एनओसी दी गई है। एनसीटीई के दिशानिर्देश के अनुसार 30 जून तक आवेदन लिए जाएंगे।
नीना श्रीवास्तव, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी

एनसीटीई ने बढ़ाई आवेदन की तिथि
बीटीसी कॉलेज की मान्यता के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई से बढ़ाकर 30 जून कर दी गई है। संस्था ने अपने पत्र में लिखा है कि राज्य सरकारों, विश्वविद्यालयों के अनुरोध पर आवेदन की तारीख बढ़ाई गई है।

यूपी में हैं बीटीसी के 705 निजी कॉलेज
यूपी में फिलहाल 705 निजी कॉलेजों और 66 डायट में बीटीसी कोर्स संचालित है। निजी कॉलेजों में सीटों की कुल संख्या 35,250 है। इनके अलावा 183 कॉलेजों की मान्यता संबंधी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। जल्द इन 183 कॉलेजों की 9150 सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:2136 निजी कॉलेजों ने मांगी बीटीसी की मान्यता