DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा-सपा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर विश्वविद्यालयों का माहौल खराब कर रहे : मायावती

भाजपा-सपा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर विश्वविद्यालयों का माहौल खराब कर रहे : मायावती

बसपा मुखिया मायावती ने केन्द्र सरकार द्वारा देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में आरएसएस के एजेण्डे को थोपने की कोशिश करने की तीखी आलोचना की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा-सपा दोनों आपस में मिलकर विश्वविद्यालयों में भी माहौल को खराब व साम्प्रदायिक करने पर तुले हुए हैं।

गुरुवार को जारी एक बयान में मायावती ने कहा है कि मौजूदा भाजपा सरकार में बीते दो वर्षों के दौरान उच्च शिक्षण संस्थानों में केन्द्र सरकार की दखलन्दाजी काफी ज्यादा बढ़ गयी है। आरएसएस के अनुचित एजेण्डे को थोपने के क्रम में देश के उच्च शिक्षण संस्थानों का लगातार राजनीतिकरण किया जा रहा है। इसके कारण कैम्पस राजनीतिक अखाड़े में परिवर्तित होते जा रहे हैं और हैदराबाद व जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय को गलत कारणों से बदनामी झेलनी पड़ी है। अब वैसा ही कुछ इलाहाबाद सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी में देखने को मिल रहा है, जहां केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय की दखलन्दाजी लगातार बढ़ती जा रही है।

विजय माल्‍या को भारत लाया जाए
बसपा अध्यक्ष ने उद्योगपति विजय माल्या को ब्रिटेन से भारत वापस लाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो यह पूरी तरह से साबित हो जायेगा कि माल्या को पहले देश से भगाने और फिर उसे बचाने की साजि‍श में केन्द्र की एनडीए सरकार की  मिलीभगत है। विजय माल्या ने गम्भीर आर्थिक अपराध किये हैं और देश को लूटने का काम किया है। उसे बड़ी आसानी से देश से विदेश भाग जाने दिया गया। परन्तु अब उन्हें कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद ब्रिटेन से वापस लाकर न्यायालय के कठघरे में खड़ा किया जाना चाहिये। वरना लोगों का विश्वास देश की व्यवस्था पर से उठता चला जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sp and bjp making bad environment of university for election said mayawati