अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तैयारी: केंद्र की तर्ज यूपी में चलेगा भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान

तैयारी: केंद्र की तर्ज यूपी में चलेगा भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उनकी सरकार केंद्र सरकार की तर्ज पर यूपी में भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कदम उठाएगी। उन्होंने अपनी सरकार के मंत्रियों से कहा कि वह निजी स्टाफ में ईमानदार व बेदाग छवि के लोगों की तैनाती कराएं। 

बताते चलें कि हाल में 'हिन्दुस्तान' ने  30 मार्च को बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनुपमा जायसवाल के निजी सचिव  बने आनंद सिंह की जालसाजी के पुराने मामले का खुलासा किया था। सरकार ने इसी का संज्ञान लेते हुए मंत्रियों को सतर्क रहने को कहा है। 

अपर्णा ने योगी को भाई और पिता तुल्य कहा

मुख्यमंत्री ने कहा है कि भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए हर सम्भव कदम उठाए जाएंगे। इसके लिए जहां प्रत्येक विभाग एवं योजनाओं में पारदर्शी व्यवस्था कायम करने का काम किया जाएगा, वहीं ईमानदार एवं मेहनती छवि के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को उचित स्थानों पर तैनाती देकर उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा। 

योगी इम्पैक्ट : गुटखा-तम्बाकू छोड़कर टॉफी खा रहे अधिकारी

प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने  बताया कि इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों को निर्देशित किया है कि वे अपने निजी स्टाफ में ईमानदार एवं बेदाग छवि के लोगों की ही तैनाती कराएं, जिससे राज्य सरकार की भ्रष्टाचार रहित एवं पारदर्शी प्रशासन देने की परिकल्पना साकार हो सके। ऐसे किसी भी कर्मचारी को निजी स्टाफ में कतई तैनात न किया जाए, जिसकी छवि दागदार हो। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: campaign against corruption will run in up