DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएम के साथ जबरदस्ती सेल्फी लेने वाला पहुंचा जेल

डीएम के साथ जबरदस्ती सेल्फी लेने वाला पहुंचा जेल

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में जिलाधिकारी के साथ जबरदस्ती सेल्फी लेने वाले युवक को जेल भेज दिया गया है। इस मामले पर जिलाधिकारी बी चंद्रकला ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा-

बिना अनुमति सेल्फी लेना उचित नहीं

बिना अनुमति किसी की भी सेल्फी लेना अनुचित है। खासतौर पर महिलाओं के साथ बगैर अनुमति सेल्फी लेना कानूनी अपराध है। ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। समाज में बहन-बेटियों की अस्मिता पर कोई आंच न आए। गुरुवार को कलक्ट्रेट सभागार में महिला और सामाजिक संगठन, प्रबुद्धवर्ग, वकील और शिक्षाविदें के संवाद में इस तरह के विचार वक्ताओं ने रखे। संवाद में वक्ताओं ने कहा कि मोबाइल से सेल्फी लेने का चलन कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। कुछ मनचले लोग इसका दुरुपयोग करते हैं। इसलिए इस पर सभी को जागरूक रहना चाहिए।

डीएम बी.चंद्रकला ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि कार्यालय में कार्य में व्यस्त होने के दौरान एक युवक ने उनकी सेल्फी लेने का भी प्रयास किया था। रोकने पर बाहर जाकर वह युवक सुरक्षाकर्मियों से भी उलझने लगा। यह महिला सुरक्षा और सम्मान के खिलाफ है।

एडीएम प्रशासन विशाल सिंह ने संवाद का संचालन करते हुए कहा कि महिलाओं की सुरक्षा और उनके सम्मान की रक्षा करना सभी का दायित्व है। इस दौरान सीडीओ चुनकूराम पटेल, प्रधानाचार्य डा.अनीता भारद्वाज, प्राचार्य डा.अंशु बंसल, अधिवक्ता इंदिरा गोयल, छवि गर्ग, रेणु चौधरी, महिला समिति की पदाधिकारी अनीता त्यागी, बार एसोसिएशन के महासचिव सुमन राघव, कु.रचना यादव, छत्रपाल सिंह, प्रियंका यादव, डा.ममता आदि मौजूद रहे। उधर, दूसरी ओर देर शाम महिला सुरक्षा और सम्मान के लिए कलक्ट्रेट से कालाआम चौराहे पर कैंडल मार्च निकाला गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bulandshahr dm selfie