किच्छा में ट्रेन के इंजन से टकराया डंपर, चालक की मौत - किच्छा में ट्रेन के इंजन से टकराया रेते से भरा डंपर, चालक की मौत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किच्छा में ट्रेन के इंजन से टकराया रेते से भरा डंपर, चालक की मौत

किच्छा में ट्रेन के इंजन से टकराया रेते से भरा डंपर, चालक की मौत

घने कोहरे के चलते मानव रहित रेलवे क्रांसिग पर अवैध खनन से भरा डंपर ट्रेन के इंजन से टकरा गया। इस घटना में डंपर के परखच्चे उड़ गए, तथा चालक की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस एवं रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बुधवार रात्रि करीब 11 बजे डंपर शांतिपुरी क्षेत्र से रेता भर कर बेनी मजार मानव रहित रेलवे क्रांसिग पार करके हल्द्वानी रोड पर आ रहा था। इसी दौरान रेलवे पटरी पर पहुंचते ही वह लालकुआं दिशा की ओर तेजी से जा रहे ट्रेन के इंजन से टकरा गया। टक्कर इतनी भयानक थी कि डम्पर के परखच्चे उड़ गए। इस हादसे में डंपर चालक सराफत अली पुत्र मुंशी शाह निवासी ग्राम छिनकी किच्छा की मौके पर ही मौत हो गई। ट्रेन के ड्राइवर ने घटना की सूचना देने पर रेलवे अधिकारी एवं पुलिस मौके पर पहुंच गए।

रात भर चलता है अवैध खनन का खेल

किच्छा। हल्द्वानी रोड स्थित बेनी मजार रेलवे क्रांसिग प्राग फार्म एवं शांतिपुरी की गौला नदी क्षेत्र से सीधा जुड़ता है। अंधेरा गहराते ही खनन माफिया के डंपर गोला नदी से धड़ल्ले से अवैध खनन करते हैं। रात्रि 10 बजे की ट्रेन निकलने के बाद रात भर इस ट्रैक पर रात भर ट्रेनों की आवाजाही नहीं होने के कारण डंपर चालक लापरवाह होकर चलते हैं। मानव रहित पर पहले भी हुए है हादसे

किच्छा। किच्छा क्षेत्र में चार मानव रहित रेलवे क्रांसिग है। इसमें गोकुल नगर रेलवे क्रांसिग पर एक पिकप वाहन के ट्रेन से टकरा जाने पर छह लोगों की मौत हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किच्छा में ट्रेन के इंजन से टकराया डंपर, चालक की मौत