DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्रवाई: तीन और राज्यों ने मैगी की बिक्री पर रोक लगाई

दिल्ली, उत्तराखंड और केरल के बाद गुरुवार को तीन अन्य राज्यों ने मैगी की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया। ये राज्य हैं गुजरात, जम्मू-कश्मीर और तमिलनाडु। पड़ोसी देश नेपाल ने भी अपने यहां मैगी की बिक्री पर रोक लगा दी है।

एक से लेकर तीन माह तक पाबंदी: मैगी के नमूने फेल होने पर जहां गुजरात और जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक माह का प्रतिबंध लगाया है, वहीं तमिलनाडु ने तीन माह का। गुजरात और तमिलनाडु ने तो मैगी के साथ कुछ और कंपनियों के नूडल की जांच करवाई थी, जिनके फेल होने पर उन पर भी रोक लगाई गई है। सभी जगह लेड निर्धारित स्तर से ज्यादा था, मोनोसोडियम ग्लूटामेट भी पाया गया।

पुराना स्टॉक तत्काल हटाएं: तीनों राज्य सरकारों ने मैगी बनाने वाली नेस्ले कंपनी से बाजार में मौजूद अपना पुराना स्टॉक तत्काल हटाने के लिए कहा है। इस पूरे मामले में केंद्र सरकार नजर रखे हुए है। केंद्र ने अपनी खाद्य सुरक्षा एजेंसी एफएसएसएआई से सभी राज्यों में दूसरी कंपनियों के नूडल की भी जांच करने के लिए कहा है।
एफएसएसएआई चेयरमैन यदुवीर सिंह मलिक ने कहा कि हम कार्रवाई से पहले कंपनी को एक मौका देंगे।

केंद्र ने रिपोर्ट मांगी
मेरे मंत्रालय ने सभी राज्यों से मैगी के नमूनों की जांच रिपोर्ट देने को कहा है। सबकी रिपोर्ट मिलने के बाद जरूरी कार्रवाई की जाएगी।
- जेपी नड्डा, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री

दिल्ली से नहीं उठा स्टॉक
दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि नेस्ले को अपना स्टॉक हटाने के निर्देश देने के बावजूद कंपनी ने अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है। अब भी कई दुकानों और स्टोर पर मैगी की बिक्री हो रही है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कार्रवाई: तीन और राज्यों ने मैगी की बिक्री पर रोक लगाई