DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापरवाही: अस्पतालों की गलती से व्यस्त समय में थमा ट्रैफिक

मैक्स साकेत और एम्स के बीच असमंजस की वजह से मंगलवार शाम पांच बजे व्यस्त समय में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर ट्रैफिक रोकना बेकार हो गया। दरअसल एक ब्रेन डेड व्यक्ति को अंगदान के लिए मैक्स से एम्स ट्रामा सेंटर पहुंचाया जाना था। इसके लिए ट्रैफिक रोककर महज आठ मिनट में उसे एम्स पहुंचा भी दिया गया लेकिन वहां पता चला कि मरीज को मस्तिष्क का कैंसर था। इस वजह से उसका कोई अंग इस्तेमाल नहीं हो सकता था। 

मैक्स ने पल्ला झाड़ा: मैक्स ने ई-मेल से बताया, 'जितेंद्र सुमन नाम के मरीज को बहुत गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। पेट सीटी से पता चला कि उसके मस्तिष्क में गंभीर इंफेक्शन है। इसकी जानकारी परिजनों को भी दी गई। उन्होंने मरीज को डिस्चार्ज करने का अनुरोध किया और खुद ही उसे एम्स ले जाने की व्यवस्था की। मरीज को ले जाने के लिए एम्स से एक डॉक्टर भी मैक्स पहुंचा। उसे डिस्चार्ज समरी सौंपी गई, जिसमें मस्तिष्क के गंभीर इंफेक्शन के बारे में स्पष्ट रूप से बताया गया था।'

एम्स का जवाब: एम्स के प्रवक्ता डॉ. अमित गुप्ता ने बताया, 'मंगलवार शाम 46 वर्षीय ब्रेन डेड व्यक्ति जितेंद्र सुमन को ऑर्गन डोनेशन एंड रिट्राइवल बैंक (आरबो ) में लाया गया। ब्रेन में मेटॉस्टिक मेलिगनेंसी (एक तरह का मस्तिष्क कैंसर) होने के कारण मरीज को अंगदान के योग्य नहीं माना गया। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान मैक्स ने मरीज की बीमारी की बात स्पष्ट नहीं की।'

आठ मिनट में पहुंचाया
04:45 बजे शाम मैक्स ने एम्स में मरीज भेजने को फोन किया
04:55 बजे एम्स ने ट्रैफिक पुलिस से ग्रीन कॉरिडोर को कहा
04:57 बजे विशेष आयुक्त ने 12 पुलिसवालों की टीम बनाई
05:00 बजे मैक्स साकेत से मरीज एंबुलेंस से एम्स भेजा गया
05:08 बजे शाम एंबुलेंस एम्स के ट्रामा सेंटर पर पहुंच गई

आखिर कौन जिम्मेदार?
मैक्स :
अस्पताल ने कहा, हमने एम्स से न तो अंगदान और न ही मरीज को वहां ले जाने के लिए कोई अनुरोध किया था। एम्स का ही डॉक्टर मरीज को ले गया था

एम्स :
अस्पताल के प्रवक्ता अमित गुप्ता ने कहा, फोन मैक्स की तरफ से ही किया गया था और उन्होंने अंगदान के लिए मरीज भेजने की बात कही थी

ट्रैफिक पुलिस : यातायात पुलिस के विशेष आयुक्त मुक्तेशचंद ने बताया कि एम्स से अनुरोध मिलने पर हमने जल्द से जल्द ग्रीन कॉरिडोर तैयार करा दिया 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लापरवाही: अस्पतालों की गलती से व्यस्त समय में थमा ट्रैफिक