DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयकर रिटर्न का फॉर्म आसान

वित्त मंत्रालय ने विरोध के बाद आयकर रिटर्न (आईटीआर) के लिए तीन पन्ने का नया फॉर्म रविवार को जारी किया। इसमें विदेश यात्राओं और निष्क्रिय बैंक खातों की जानकारी देने के विवादास्पद प्रावधान को हटा दिया गया है। यह आईटीआर फॉर्म 14 पन्नों के उस विवादास्पद फॉर्म की जगह लेगा जिसका बहुत विरोध हुआ था।

रिटर्न की अंतिम तारीख 31 अगस्त तक बढ़ी : आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख भी बढ़ाकर 31 अगस्त की गई है। वेतनभोगी कर्मियों या जिनकी कोई पेशेवर कारोबारी आय नहीं है उन्हें आईटीआर1 या आईटी 2 में हर साल 31 जुलाई तक अपना रिटर्न भरना होता है। नया आईटीआर-2ए फार्म ऐसा व्यक्ति या संयुक्त हिंदू परिवार भर सकता है जिनके पास कोई पूंजीगत लाभ, कारोबार या पेशेवर आय नहीं होती है।  

सिर्फ पासपोर्ट नंबर देना होगा : वित्त मंत्रालय ने कहा, अब विदेश यात्राओं व खर्च का ब्योरा देने की जरूरत नहीं होगी। हालांकि, विदेश यात्रा की जगह सिर्फ पासपोर्ट नंबर देना होगा। मंत्रालय ने उन निष्क्रिय बैंक खातों का ब्योरा देने की अनिवार्यता भी खत्म कर दी है जिनमें बीते तीन साल से कोई लेन-देन नहीं हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयकर रिटर्न का फॉर्म आसान