DA Image
12 जुलाई, 2020|8:49|IST

अगली स्टोरी

चीन ने माना, 26/11 में पाक का हाथ

चीन ने पहली बार सार्वजनिक तौर पर माना कि मुंबई हमले में पाकिस्तान का हाथ था। हाल ही में चीन के सरकारी चैनल शंघाई टेलीविजन और चाइनीज टेलीविजन ने 26/11 को हुए हमले पर वृत्तचित्र प्रसारित किया। इसमें आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा को हमले की योजना बनाते और उसे क्रियान्वित करते दिखाया गया है। आतंकी अजमल कसाब के कबूलनामे वाले फुटेज को भी दिखाया।

पाकिस्तान का साथ देता रहा: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के दौरे से ठीक पहले वृत्तचित्र प्रसारित हुआ था। इस कदम को काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि अभी तक चीन मुंबई हमले में पाकिस्तान की भूमिका से इनकार करता रहा है। इसके अलावा बीजिंग 26/11 के मुख्य आरोपियों जकीउर रहमान लखवी और हाफिज सईद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई पर भी इस्लामाबाद का साथ देता रहा है।

नीति में परिवर्तन की वजह: इसे चीन की नीति में बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। पिछले दिनों मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रस्ताव का विरोध करने पर चीन को अंतरराष्ट्रीय समुदाय की आलोचना झेलनी पड़ी थी।  उसके रुख में बदलाव अंतरराष्ट्रीय समुदाय के बीच अपनी छवि सुधारने का कदम भी हो सकता है।

अड़ंगे लगाता रहा
भारत ने संयुक्त राष्ट्र में जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को आतंकवादी घोषित करने की मांग की थी लेकिन सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य चीन के अड़ंगे की वजह से यह प्रस्ताव पारित नहीं हो सका। चीन ने इससे पहले भी पाकिस्तान की मदद की थी। पिछले साल जून में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड जकीउर रहमान लखवी की रिहाई के विरोध में भारत ने पाकिस्तान पर कार्रवाई की मांग की थी। तब भी चीन ने इस प्रयास को विफल कर दिया था।