DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कामयाबी का रास्ता घर से...

कामयाबी का रास्ता घर से...

घर से काम करने का चलन काफी तेजी से बढ़ रहा है। युवाओं को यह नया ट्रेंड खूब भा रहा है। कहीं भी कभी भी काम की सहूलियत न सिर्फ आमदनी को बढ़ाने का अच्छा जरिया है, बल्कि नए-नए असाइनमेंट की चुनैतियां भी इसे रोमांचक बना रही हैं। कैसे करें घर से काम की शुरुआत, बता रही हैं सौदामिनी पांडेय

कितना अच्छा हो कि टाइम से ऑफिस पहुंचने के लिए रोज आपको अपनी नींद ना खराब करनी पड़े। कितना अच्छा हो कि किसी काम को करवाने के लिए आपका बॉस आपके सिर पर सवार ना रहे। कितना अच्छा हो कि आप कानों में ईयर फोन लगाए फिल्मी गाने सुनते हुए काम करें। एक मिनट के लिए ये सब कुछ आपको कल्पना लोक की बातें लग सकती हैं, पर आपको ये जानकर हैरानी से ज्यादा जलन होगी कि आज के दौर में युवाओं का एक बड़ा तबका है, जो बिल्कुल इसी अंदाज में काम करता है, क्योंकि वह किसी ऑफिस में नौकरी नहीं करता, बल्कि वर्क फ्रॉम होम का हिस्सा है। हमारे आस-पास अलग-अलग पेशों से जुड़े लोगों को अब नौकरी की परवाह नहीं रही। उन्हें अपनी शर्तों पर, अपने मुंह मांगे पैसे पर काम करने की आजादी मिल गई है और उन्हें ये सहूलियत मिली है देश में बढ़ रहे वर्क फ्रॉम होम के मौकों की वजह से।

भारत में बढ़ रहे हैं वर्क फ्रॉम होम के मौके
पिछले कुछ सालों में जितनी तेजी से हमारे इंटरनेट की स्पीड बढ़ी है, उतनी ही तेजी से वर्क फ्रॉम होम का क्रेज भी बढ़ा है। एक बहुत बड़ी आबादी है, जिसे नए जमाने के इस वर्क कल्चर की इतनी बुरी आदत पड़ चुकी है कि वह बड़े से बड़ा सैलरी पैकेज का ऑफर भी स्वीकार नहीं करती, क्योंकि वर्क फ्रॉम होम उसे अपने तरीके से काम करने की आजादी देता है, जो किसी भी बड़ी कंपनी में कभी नहीं मिल सकता।

आज की तारीख में डेटा एंट्री और कंटेंट क्रिएशन से लेकर वेबसाइट डिजाइनिंग, डेवलपमेंट, मेंटेनेंस, एसईओ, एसएमओ, एथिकल हैकिंग, मोबाइल एप डेवलपमेंट, सोशल मीडिया मैनेजमेंट, ऑनलाइन एडवरटाइजिंग, एफिलिएट मार्केटिंग, वीडियो प्रोडक्शन, ग्राफिक्स डिजाइनिंग, पीआर जॉब, बेसिंग काउंसिलिंग, कस्टमर केयर सपोर्ट जैसे तमाम क्षेत्रों में वर्क फ्रॉम होम के मौकों की भरमार है। अगर आपके पास एक अदद इंटरनेट कनेक्शन है तो आप अपनी काबिलियत के दम पर दुनिया के किसी भी कोने से कोई भी काम उठा सकते हैं और तय समय पर उसे पूरा करके अच्छे पैसे कमा सकते हैं। ईलांस, फ्रीलांसर डॉट कॉम, वीमियो जैसी दर्जन भर वेबसाइट्स मौजूद हैं, जहां अलग-अलग क्षेत्रों के लोग अपनी प्रतिभा और अनुभव के मुताबिक बहुत आसानी से काम हासिल कर लेते हैं, जिसे वे वर्क फ्रॉम होम के जरिए पूरा करके विदेशी मुद्रा में कमाई करते हैं।

क्या हो रणनीति?
वर्क फ्रॉम होम के जरिए अच्छी कमाई करने का सपना देखने वालों के लिए बहुत जरूरी है कि वे इस काम को अच्छी तरह समझ लें। उन्हें अपने बारे में कोई गलतफहमी नहीं होनी चाहिए। उनकी अपने काम पर पूरी पकड़ होनी चाहिए। इंटरनेट और इससे जुड़ी बेसिक तकनीकों का इस्तेमाल करना उन्हें आना चाहिए और सबसे बड़ी बात ये कि वर्क फ्रॉम होम में आप सिर्फ तभी कामयाब हो सकते हैं, जब आपमें सच्ची लगन हो और आप एक बेहतरीन प्रोफेशनल हों। वरना बहुत मुमकिन है कि आप शौकिया तौर पर कुछ दिनों तक पूरे जोशोखरोश के साथ यह काम करें, लेकिन आपको इसमें वह कामयाबी न मिल पाए, जिसकी उम्मीद करके आपने इसमें हाथ आजमाया।

करियर काउंसलर जुबिन मल्होत्रा का कहना है, 'वर्क फ्रॉम होम के लिए काम कर पाने का आत्मविश्वास होना भी बहुत जरूरी है। तजुर्बा न होने की स्थिति में बेसिक टेलीकॉलिंग या डेटा एंट्री जैसे काम ही मिल पाते हैं।' अगर आप वर्क फ्रॉम होम में हाथ आजमाना चाहते हैं तो आइए आपको वे बातें बताते हैं, जो आपको अपने जेहन में ठीक से बिठा लेनी चाहिए ।

खुद को मानसिक तौर पर तैयार करें
वर्क फ्रॉम होम की शुरुआत करने से पहले इसके बारे में सही-सही जानकारी जुटा लें। आपके कार्यक्षेत्र से जुड़े जो भी लोग इस तरह का कोई भी काम कर रहे हों, उनसे बातचीत करके इसके फायदे-नुकसान, चुनौतियों के बारे में सटीक जानकारी हासिल कर लें। जब आप ये एक्सरसाइज कर लें तो खुद के भीतर झांक कर एक बार ये सवाल जरूर पूछें कि क्या आप सही मायने में इस काम को करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। अगर आपको लगता है कि काम  शुरू करने से पहले आपको किसी स्किल पर काम करने की जरूरत है तो पहले उस पर ध्यान दें।

काम के हिसाब से करें प्रोफेशनल तैयारी
वर्क फ्रॉम होम के जरिए कोई भी असाइनमेंट हासिल करने से पहले खुद को प्रोफेशनली तैयार करना जरूरी है। अगर आपका काम कंटेंट राइटिंग से जुड़ा है तो आप ये तस्दीक कर लें कि इसे करने के लिए आपके पास जरूरी सुविधाएं हों, मसलन कंप्यूटर-लैपटॉप, इंटरनेट वगैरह उपलब्ध हैं या नहीं। अगर आपका काम ग्राफिक्स डिजाइनिंग या वेबसाइट डिजाइनिंग से संबंधित हो तो आप ये सुनिश्चित कर लें कि इसके लिए जरूरी स्किल, अपडेटेड मशीन और सॉफ्टवेयर आपके पास हैं या नहीं। यानी आपका काम जो भी हो, उससे जुड़ा कोई भी प्रोजेक्ट हाथ में लेने से पहले आपको अपनी प्रोफेशनल तैयारी का आकलन एक बार जरूर कर लेना चाहिए, ताकि ऐसा ना हो कि आप ऐसी किसी परेशानी की वजह से कोई असाइनमेंट सही वक्त पर पूरा ना कर पाएं और आपकी इमेज खराब हो।

ईमानदारी और सच्चाई से करें काम
अपनी क्षमताओं, कार्यशैली, अपनी उपलब्धता और अपनी व्यस्तताओं को ध्यान में रखते हुए ही कोई काम हाथ में लें। जिस तरह के काम में आपकी रुचि न हो, जो आप बेहतरीन नहीं कर सकते, जिसे करते हुए आप कहीं फंस सकते हैं, उसे हासिल करने के लिए झूठ या बेईमानी का सहारा कतई ना लें, क्योंकि ऐसा करके शायद आप असाइनमेंट तो हासिल कर सकते हैं, लेकिन अगर आप उस काम को देने वाले की उम्मीदों के मुताबिक नहीं कर पाए तो यह आपके लिए ठीक नहीं होगा। वर्क फ्रॉम होम का धंधा विश्वास और पारदर्शिता के भरोसे चलता है, जो आप अपनी एक मामूली गलती से हमेशा के लिए गंवा देंगे।

डेडलाइन का रखें ध्यान

वर्क फ्रॉम होम आपको कहीं से भी गैरपेशेवर तरीके से काम करने की आजादी नहीं देता। वर्क फ्रॉम होम कल्चर में काम करते हुए आपको ऑफिस में काम करने वाले किसी कर्मचारी से ज्यादा प्रोफेशनल अप्रोच रखनी होगी, क्योंकि जिस भी संस्थान ने आपको काम सौंपा है, वह यह मानकर चलता है कि आप उस काम को तय समय सीमा में हर हाल में पूरा कर देंगे। ऐसे में आपकी जिम्मेदारी और भी ज्यादा बढ़ जाती है कि आप अपनी डेडलाइन के भीतर क्वालिटी काम करके दें। निजी जिंदगी में चाहे जो भी परेशानी हो, काम के साथ कोई समझौता न करें, क्योंकि आपका भविष्य आपकी इन्हीं छोटी-छोटी बातों से तय होगा। तो हो जाइए तैयार अपनी प्रतिभा को दुनिया के बाजार में भुनाने के लिए और आजमाइए वर्क फ्रॉम होम को, जहां अपनी किस्मत आप खुद लिख सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कामयाबी का रास्ता घर से...