DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस को इस बार भाजपा से कड़ी चुनौती मिल रही

मणिपुर में कांग्रेस अर्से से सत्ता पर काबिज है। पार्टी विधानसभा चुनाव जीत कर लगातार चौथी बार सत्ता में आने का दावा कर रही है। लेकिन भाजपा से उसे कड़ी टक्कर मिल रही है।

जानकारों का कहना है कि पूर्वोत्तर के इस राज्य में मुख्य चुनावी टक्कर कांग्रेस और भाजपा के बीच ही है। साल 2012 के विधानसभा चुनाव में उसने दो तिहाई से भी ज्यादा बहुमत पाया था। भाजपा ने पिछले कुछ समय में पूर्वोत्तर में मौजूदगी बढ़ाई है। मणिपुर में 2015 के उपचुनाव में उसने कांग्रेस की मजबूत पकड़ वाले क्षेत्र थांगमेइबैंड और थोंगजु में जीत हासिल की थी। 2016 में असम में जीत के बाद इस क्षेत्र में उसका दबदबा बढ़ा है। सरकार की नाकामी को भी वह पूरे जोरशोर से भुनाने में लगी है।

प्रदेश में इरोम शर्मिला की अगुआई वाली पीपुल्स रिसर्जेंस एंड जस्टिस एलायंस, तृणमूल कांग्रेस, नगा पीपुल्स फ्रंट, पीपुल्स डेमोक्रेटिक एलायंस आदि भी चुनाव मैदान में हैं। लेकिन इन दलों का ज्यादा जोर नजर नहीं आ रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: congress facing a stiff challenge from bjp