DA Image
28 मार्च, 2020|2:58|IST

अगली स्टोरी

ठाकुरबाड़ी से अष्ट धातु की माँ सीता की मूर्ति चोरी

चोरों ने पहले भगवान राम, लक्ष्मण और हनुमान की मूर्तियां चुराई। एक साल बाद माता सीता को भी चुरा ले गये। मामला घीवहा पंचायत के हसनपुर वार्ड 9 की रामजानकी ठाकुरबाड़ी से जुड़ा हुआ है।

इस ठाकुरबाड़ी में अबतक दो बार चोरी हो चुकी है। गुरुवार की रात चोरों ने माता सीता की अष्ट धातु की एक मूर्ति की चुरा ली। 22 किलो की इस मूर्ति का मूल्य 2 लाख रुपया से अधिक बताया जा रहा है।

इससे पहले भी इसी ठाकुरबाड़ी से 23 मार्च 2015 को चोरों ने भगवान राम तथा हनुमान की अष्ट धातु से निर्मित दो मूर्ति सहित लक्ष्मण की संगमरमर की प्रतिमा की चोरी कर ली थी।

उन मूर्तियों की कीमत 5 लाख रुपये से अधिक बतायी गयी थी। ठाकुरबाड़ी के पुजारी सियाशरण दास के बयान पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि ठाकुरबाड़ी में दो पुजारी हैं। मुख्य पुजारी सियाशरण दास इन दिनों यज्ञ के लिए चंदा जुटाने में व्यस्त हैं। दूसरे पुजारी रामभजन दास ने बताया कि गुरुवार की रात पूजा-आरती करने के बाद गांव में ही अपने घर चले गये।

शुक्रवार की सुहब ठाकुरबाड़ी के पास बसे रामदेव यादव की पुत्री सुनैना कुमारी(12) मंदिर की चाबी लेकर मुख्य द्वार खोलने पहुंची तो मुख्य गेट का ताला टूटा हुआ था।

उसने हल्ला कर लोगों को घटना की जानकारी दी। मौके पर जुटे भूदाता के परिजन, पुजारी और ग्रामीणों ने जब मंदिर का पट खोला तो सीता माता की मूर्ति गायब थी।

उधर, ग्रामीणों में एक ही ठाकुरबाड़ी में दो बार मूर्ति चोरी होने से जबर्दस्त आक्रोश है। उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि जल्द मूर्तियां बरामद नहीं हुई तो सड़क पर आंदोलन किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:idol stolen from thakurbadi, godess sita, Chatapur, supaul