अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड में बेरोजगार हो गए पांच हजार अतिथि शिक्षक

उत्तराखंड में बेरोजगार हो गए पांच हजार अतिथि शिक्षक

सरकारी माध्यमिक स्कूलों में तैनात करीब पांच हजार अतिथि शिक्षक शुक्रवार शाम से एक बार फिर बेरोजगार हो गए। हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार शुक्रवार से अतिथि शिक्षक की व्यवस्था समाप्त कर दी गई।

अतिथि शिक्षकों की सेवा समाप्त होने से राज्य के पर्वतीय क्षेत्र के ज्यादातर स्कूलों में शिक्षकों के पद खाली हो गए हैं। यदि जल्द ही शिक्षकों की व्यवस्था न हुई तो नए शैक्षिक सत्र में पढ़ाई प्रभावित होने की आशंका है। इस मामले में शिक्षा विभाग फिलहाल हाईकोर्ट के अगले आदेश का इंतजार कर रहा है। पांच अप्रैल को अतिथि शिक्षकों की विशेष अपील पर सुनवाई होनी है। विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि की। दूसरी तरफ, अतिथि शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष हरीश आर्य और राजेंद्र बिजल्वाण ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है। आर्य ने कहा कि सरकार से अतिथि शिक्षकों को नई व्यवस्था के तहत नियुक्ति देने की जाएगी।

हाईकोर्ट की छूट शुक्रवार को खत्म

राज्य के पर्वतीय क्षेत्र के स्कूलों में शिक्षकों की कमी देखते हुए पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने वर्ष 2015 में अतिथि शिक्षकों की भर्तियां शुरू की थीं। ये नियुक्तियां अधिकतम 89 दिन या शैक्षिक सत्र भर के लिए थीं। मार्च 2016 में सेवा समाप्त होने पर अतिथि शिक्षकों ने दोबारा ज्वाइनिंग और संविदा पर नियुक्ति के लिए लंबा आंदोलन किया। इस दौरान कुछ शिक्षक और बेरोजगार युवाओं ने अतिथि शिक्षक व्यवस्था के खिलाफ हाईकोर्ट में रिट दायर कर दी। इसकी सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने अतिथि शिक्षक व्यवस्था खत्म करते हुए स्थायी भर्तियां शुरू करने के आदेश दिए थे। साथ ही शिक्षा विभाग को छूट दी कि वो स्थायी शिक्षकों की व्यवस्था होने तक 31 मार्च 2017 तक अतिथि शिक्षक व्यवस्था को बहाल रख सकता है। शुक्रवार को उस छूट की अवधि खत्म हो गई।

भर्ती की गति बेहद धीमी

हाईकोर्ट के सख्त रुख के बावजूद स्थायी शिक्षकों की भर्ती की रफ्तार बेहद धीमी है। विभाग ने 1200 से ज्यादा एलटी शिक्षक के पदों की भर्ती का प्रस्ताव अधीनस्थ चयन आयोग को दिया है। 900 से ज्यादा प्रवक्ता पदों पर भर्ती की कार्यवाही लोक सेवा आयोग के स्तर से होनी है। जहां एलटी भर्ती की प्रक्रिया आवेदन तक सिमटी है। वहीं प्रवक्ता में गाड़ी एक इंच भी आगे नहीं बढ़ी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Five thousand guest teachers unemployed in Uttarakhand