DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परिवर्तन के लिए प्रेरणा और इच्छाशक्ति जरूरी

परिवर्तन के लिए प्रेरणा और इच्छाशक्ति जरूरी

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त केवी चौधरी ने कहा कि परिवर्तन के लिए प्रेरणा और इच्छाशक्ति की जरूरत है। समय के साथ नियमों में बदलाव लाने की जरूरत भी है। सुव्यवस्थित तरीके से सभी आधिकारिक निर्णय और कार्यवाही का रिकॉर्ड रखा जाना चाहिए।

वह 21 सितंबर को कांके स्थित आईआईसीएम में ‘कंप्लीट ट्रांसपरेंसी एंड एडरेंस टू रूल्स एंड रेलुगलेसंस इंप्रूव प्रोडक्टिविटी विषयक संगोष्ठी में बोल रहे थे। इसका आयोजन सीसीएल के सतर्कता विभाग ने किया था। उन्होंने जीपीएस, जीपीआरएस आरएफआईडी आधारित सीसीटीवी वाहन ट्रैकिंग सिस्टम का ऑनलाइन उद्घाटन किया। इस नई प्रणाली का सीधा प्रसारण कर कार्यचालन का प्रदर्शन किया गया। उन्होंने सतर्कता जागरूकता पत्रिका का भी विमोचन किया।कोल इंडिया के मुख्य सतर्कता पदाधिकारी मनोज कुमार ने कहा की सतर्कता विभाग किसी भी कंपनी का महत्वपूर्ण अंग है। कंपनी की विकास में सहभागी है। सतर्कता विभाग का काम दोषियो को सजा देने के साथ ईमानदार अफसरों का संरक्षण करना भी है। उन्होने नियमानुसार काम करने का सुझाव दिया। सीसीएल के मुख्य सतर्कता पदाधिकारी अरबिंद प्रसाद ने पावर प्रेजेंटेशन कंपनी द्वारा पारदर्शिता लाने के लिए शुरू की गई पहल और योजनाओ पर प्रकाश डाला। उन्होने बताया कि सीसीएल में 100 फीसदी ई-टेंडरिंग प्रणाली लागू की गई है। सीसीएल सीएमडी गोपाल सिंह ने कहा कि कंपनी ने ‘कायाकल्प मॉडल ऑफ गवर्नेंंस के नीतिगत ढांचा विकसित किया है। इसका प्रयोग हर स्तर पर हो रहा है। इस मॉडल में पारदर्शिता, नैतिकता और परोपकारिक दृष्टिकोण और स्टेकहोल्डर के साथ निरंतर संपर्क हैं। संचालन प्रिय रंजन कुमार और धन्यवाद डीटीओ पीके तिवारी ने किया। इस अवसर पर निदेशक आरएस महापात्र, सुबीर चंद्रा सहित अन्य मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: motivation for the change and will