DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

SEMINAR : दलितों में जागरूकता लाने को आगे आएं लोग

SEMINAR : दलितों में  जागरूकता लाने को आगे आएं लोग

पढ़े-लिखे लोग अगर एक साथ दस लोगों को जागरूक करें तो दलितों में अधिक से अधिक जागरूकता आएगी। ये बातें राज्य के ग्रामीण विकास एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने कहीं।

वे पटना वीमेंस कॉलेज में मंगलवार को राजनीतिशास्त्र विभाग की ओर से आयोजित ‘दलित सोसायटी एंड पॉलिटिक्स- इमर्जिंग ट्रेंड्स इन इंडियन पॉलिटिक्स सिस्टम विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

पूर्व सांसद डॉ संजय पासवान ने कहा कि हमें यह चैरिटी सिस्टम का भाव भी खत्म करना होगा, तभी दलितों की स्थिति में सुधार होगा। वहीं कला एवं संस्कृति मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा कि भारत ऐसा देश है जहां जाति प्रथा अब भी जिंदा है, जिसे खत्म करने के लिए हमलोंगो को ही आगे आना होगा।

बदलाव चाहिए तो खुद आगे आएं दलित : वीसी

इसके पहले सेमिनार की शुरुआत कॉलेज प्राचार्या डॉ. सिस्टर मेरी जेसी एसी, पटना विश्वविद्यालय के वीसी प्रो. सुधीर कुमार श्रीवास्तव, मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर की। डॉ. जेसी ने कार्यक्रम के पहले सत्र में सेमिनार की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने छात्राओं से आगे बढ़कर समाज के विकास में योगदान देने की बात कही।

पटना विवि के कुलपति प्रो. सुधीर कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि अगर समाज में कुछ बदलाव चाहिए तो इसके लिए दलितों को खुद आगे आना होगा। मौके पर एक्शन एड के एग्जीक्यूटिव संदीप चाचरा, कार्यक्रम के संयोजक सचिव डॉ शैफाली रॉय, डॉ उपासना सिंह सहित कई लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People should come forward to bring awarness in dalits