DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गया में चट्टान में करायी गई ब्लास्टिंग

शाहमीर तक्या दुर्गास्थान पहाड़ी स्थित लुढ़कने की आशंका वाले चट्टान में पहले चरण की ब्लास्टिंग करायी गई। जोरदार धमाके के साथ चट्टान का लगभग 40 फीसदी हिस्सा टूट गया। बेहतर सर्तकता के साथ कराए गए विस्फोट में चट्टान का कोई भी हिस्सा जाल से बाहर नहीं आया। जाल हटाने के बाद विस्फोट में टूटे चट्टान को हटाने का काम शुरू होगा। विस्फोट के दौरान गया के प्रमंडलीय आयुक्त लियान कुंगा, डीएम कुमार रवि, एसएसपी गरिमा मलिक समेत कई वरीय अधिकारी मौजूद थे। शनिवार रात तक चट्टान पर ड्रिलिंग का काम पूरा हो गया था। रविवार की सुबह से इसमें विस्फोटक मेटेरियल डाले गए। इससे पहले ही चट्टान के नीचे बसे लोगों के घरों को खाली करा लिया गया था। विस्फोट करने से पहले चेक किया गया कि कोई विस्फोट की जद में न आए। पुलिसकर्मियों को भी नीचे भेज दिया गया। कई वरीय अधिकारी चट्टान से काफी उपर आ गए। इसके बाद विस्फोट कराया गया।

मालूम हो कि इस चट्टान को देखने और लोगों से घर खाली करने की अपील करने सीएम नीतीश कुमार आए थे। विस्फोट कराने में 70 लाख रुपये से ज्यादा खर्च हुए हैं।

चट्टान का पांच चरणों में सफाया होगा। पहले चरण के सफल विस्फोट के बाद अधिकारियों ने राहत की सास ली है। डीएम कुमार रवि ने बताया कि मलबा हटाने के बाद दोबारा चट्टान की ड्रिलिंग होगी। जाल लगाया जाएगा। इसके बाद फिर इसमें विस्फोट कराया जाएगा। इस दौरान लोगों के लिए राहत शिविर बनाया गया है। कुछ लोग शिविर में रह रहे है जबकि कुछ ने अपने रिश्तेदार के यहां शरण ली है।

विस्फोट होने की जानकारी मिलने पर लोग इसे देखने के लिए दूर छतों पर जमे रहे। दूर रहे लोगों को तेज आवाज और धूंआ दिखायी दिया। आसपास में छतों पर किसी को रहने की इजाजत नहीं थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Has been provided in the rock blasting