Commerciall training for girls at the panchayat level - लड़कियों को मिलेगा पंचायत स्तर पर व्यावसायिक प्रशिक्षण DA Image
16 दिसंबर, 2019|6:26|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लड़कियों को मिलेगा पंचायत स्तर पर व्यावसायिक प्रशिक्षण

पंचायत स्तर पर किशोरी-लड़कियों को व्यावसायिक प्रशिक्षण दिया जाएगा। राजीव गांधी किशोरी बालिका प्रशिक्षण योजना के तहत व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। शत प्रतिशत केंद्र प्रायोजित यह योजना केंद्र सरकार द्वारा राशि नहीं उपलब्ध कराने के कारण पिछले एक साल से बंद है। लेकिन वर्ष 2016-17 में केंद्र व राज्य मिलकर इस योजना को क्रियान्वित करेंगे।

समेकित बाल विकास योजना निगम के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार ने केंद्र व राज्य के बीच 60: 40 के अनुपात में खर्च वहन कर योजना संचालित करने का निर्णय लिया है।

आंगनबाड़ी केन्द्र पर लड़कियां करा सकती हैं नामांकन : ग्रामीण क्षेत्रों में किशोरियों को सशक्त बनाने के लिए लागू इस योजना के तहत लड़कियां आंगनबाड़ी केंद्रों पर अपना नामांकन करा सकती हैं। इस योजना के तहत 11 से 18 वर्ष की लड़कियों का नामांकन होगा। नामांकन के लिए लड़कियों को अपना जन्म प्रमाणपत्र देना होगा। आंगनबाड़ी केंद्रों पर सिलाई, नर्सिंग, कंप्यूटर, गारमेंट, शिशु देखभाल, न्यूट्रीशन विषयों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। यह प्रशिक्षण बिहार बोर्ड ऑफ ओपन स्कूलिंग ऑफ एग्जामिनेशन के माध्यम से कराया जाएगा।

12 जिलों में चल रही है योजना : राजीव गांधी किशोरी बालिका प्रशिक्षण योजना 2011-12 से बिहार में लागू है। यह योजना 12 जिलों में संचालित की जा रही है। ये जिले हैं- पटना, मुंगेर, गया, औरंगाबाद, बक्सर, सीतामढ़ी, सहरसा, पश्चिम चंपारण, वैशाली, किशनगंज, बांका, कटिहार। योजना के तहत पोषण व गैर पोषण दोनों तरह की सुविधाएं किशोरियों को प्रदान की जाती है। प्रशिक्षण में शामिल होने वाली किशोरियों को प्रशिक्षण के दौरान बैंकिंग एवं स्वच्छता सहित अन्य व्यवहारिक जानकारियां भी दी जाएंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Commerciall training for girls at the panchayat level