DA Image
4 अप्रैल, 2020|5:09|IST

अगली स्टोरी

ऊंचे ब्याज का झांसा दे ठगे 15 करोड़

दिल्ली पुलिस ने ऊंची ब्याज दरों का लालच देकर करीब 15 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। इस मामले में 150 लोगों ने शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपी की पहचान कमलकांत कौशिक के रूप में हुई है। कमलकांत की गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का ईनाम भी घोषित था।

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा के डीसीपी मंगेश कश्यप ने बताया कि कमलकांत, विमल अग्रवाल, एसआर नंदन एवं राम बहादुर पाठक ने मेसर्स इंडिया कार एंड एयर रेंटल्स कंपनी का गठन किया। उन्होंने प्रचार माध्यमों से ऊंची ब्याज दरों वाली निवेश योजनाओं का लालच दिया। इसमें लोगों को पांच साल के लिए 1 लाख 25 हजार से लेकर 5 लाख 45 हजार के निवेश पर प्रति माह 8200 से 36,500 प्रति माह के निश्चित लाभ का वादा किया।

भरोसा जीतने के लिए शुरू में लोगों को चेक के माध्यम से रकम मिली। बाद में योजना अवधि घटा कर तीन साल कर दी गई। लेकिन बाद में चेक बाउंस होने लगे तो लोगों ने पुलिस की शरण ली। 900 से अधिक लोगों ने इन योजनाओं में निवेश किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ऊंचे ब्याज का झांसा दे ठगे 15 करोड़