DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बसों में सफर करने वाले बीआरटी कॉरिडोर से खुश थे: शीला दीक्षित

दिल्ली में पहली बार बीआरटी कॉरिडोर की व्यवस्था लागू की गई थी। इस कॉरिडोर को शुरू करने से पूर्व कांग्रेस सरकार ने अभियंताओं, पुलिस, जेएनयू के एक्सपर्ट से राय ली थी। इस राय के आधार पर ही दिल्ली का बीआरटी कॉरिडोर मॉडल तैयार किया गया था। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि इस कॉरिडोर से सबसे अधिक खुश वो लोग थे जो सार्वजनिक परिवहन की बसों से सफर करते थे। केवल बड़ी- बड़ी गाडि़यों वालों को ही इस कॉरिडोर पर परेशानी होती थी। उन्होंने कहा कि इस कॉरिडोर के निर्माण के 2 से 3 बाद ही दिल्ली में विधानसभा के चुनाव हुए थे और कांग्रेस सरकार एक बार फिर बड़े बहुमत से जीतकर सत्ता में आई थी।

यह विचार भले ही दुनिया से दूसरे शहरों से था लेकिन कॉरिडोर निर्माण से पूर्व दिल्ली की स्थिति को ध्यान में रखा गया था। यह कहना बिलकुल गलत है कि दिल्ली सरकार ने विदेशों के आधार पर ही इस व्यवस्था को कॉपी पेस्ट करके लगा दिया था। इस व्यवस्था को आगे बढ़ाना है, या फिर खत्म करना है और या नहीं लागू करना है। अब इस पर फैसला आप सरकार को लेना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:delhi former cm says peoples where happy with bus rapid transport corridor