DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइबर सिटी में चार जगहों पर स्टैक पार्किंग बनेगी

साइबर सिटी की सड़कों पर बढ़ती वाहनों की भीड़ और पार्किंग के लिए सिकुड़ती जगहों के बीच संतुलन बनाने के लिए नगर निगम 'स्टैक पार्किंग' को विकल्प के रूप में देख रहा है। निगम में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर चार जगहों का चयन कर लिया है। निजी कंपनियों से भी इसके लिए प्रस्ताव मांगा गया है।

गुड़गांव नगर निगम, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं आधारभूत संरचना विकास निगम मल्टीलेवल पार्किंग की योजना बना रहा है। इसी कड़ी में सड़क किनारे कम स्थान पर गाडि़यों की पार्किंग के नए विकल्प पर नगर निगम ने 'स्टैक पार्किंग' पर काम शुरू कर दिया है।

स्टैक पार्किंग पुराने नगर निगम कार्यालय परिसर, सी-1 इंफो सिटी सेक्टर-34 गुड़गांव, सदर बाजार, नागरिक अस्पताल के पीछे बनाने की तैयारी है।

संयुक्त निगम कमिश्नर नगर निगम जोन वन विवेक कालिया ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र में पार्किंग की बढ़ती चुनौतियों को देखते हुए अलग ढंग से सोचने की जरूरत है। अब तकनीक की मदद से समस्या का समाधान तलाशा जा सकता है, इसलिए स्टैक पार्किंग के बारे में विचार किया गया है।
 
क्या होती है स्टैक पार्किंग
यह स्टील का बना हाइड्रोलिक प्लेटफार्म होता है। एक गाड़ी खड़ा होने पर जितना स्थान लेती है, उतनी ही जगह पर इस स्टैक पार्किंग के माध्यम से एक के ऊपर एक तीन गाडि़यां पार्क की जा सकती हैं। इस प्लेटफार्म पर गाडि़यों को खड़ा करना और उतारना मुश्किल नहीं होता है। स्टैक पार्किंग की यूनिट 3, 6, और 9 गाडि़यों के यूनिट के रूप में आती है। तीन गाडि़यों के एक यूनिट की कीमत करीब 8 से 9  लाख रुपये बताई जा रही है।
 
''स्टैक पार्किंग के लिए छह जुलाई को हमने निजी कंपनियों से उनकी 'पसंद की अभिव्यक्ति' मांगी है। निजी कंपनियां इसे 20 जुलाई तक नगर निगम के दफ्तर में जमा करा सकती हैं। नगर निगम इसे पायलट प्रोजेक्ट के रूप में देख रहा है। एक तो यह ज्यादा स्थान नहीं घेरता, दूसरे इसे कभी दूसरी जगह भी लगाया जा सकता है।''
सुधीर चौहान, वरिष्ठ नगर योजनाकार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cyber city stack parking