DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीठ पर रखे बैग से लैपटॉप उड़ा रहा गिरोह

पीठ पर रखे बैग से लैपटॉप उड़ा रहा गिरोह

आप अगर अपना लैपटॉप बैग में रखने के बाद पीठ पर लटका कर चलते हैं तो सतर्क हो जाएं। राजधानी में कई ऐसे गिरोह सक्रिय हैं, जो पीठ पर रखे बैग से भी लैपटॉप चोरी कर रहे हैं। ऐसे गिरोह बस से लेकर मेट्रो तक के अंदर सक्रिय हैं। जनकपुरी इलाके में 10 दिनों के भीतर ऐसी एक दर्जन वारदातें हो चुकी हैं। ऐसी कई वारदातें मेट्रो ट्रेन के अंदर भी हुई हैं।

एक पिज्जा कंपनी में नौकरी करने वाले आर. बाला ने बताया कि 28 मई की रात वह मेट्रो से घर लौट रहा था। उत्तम नगर ईस्ट मेट्रो स्टेशन पर उतरकर वह बस रूट संख्या 761 में सवार हुआ। बस में चढ़ते ही कुछ युवकों ने उसे घेर लिया। कुछ ही मिनट में उसे पीठ पर रखा बैग हल्का महसूस होने लगा। उसने बैग देखा तो उसका लैपटॉप चोरी हो चुका था। लैपटॉप लेकर भाग रहे एक युवक को भी उसने देखा। वह उतरकर उसे पकड़ना चाहता था, लेकिन बस में मौजूद युवकों ने उसे घेरे रखा उतरने ही नहीं दिया।

जनकपुरी निवासी 32 वर्षीय तन्मय ने बताया कि वह एक निजी कंपनी में नौकरी करता है। 25 मई को वह दफ्तर से घर लौट रहा था। वह बस रूट संख्या 753 में सवार हुआ था। रात लगभग 8 बजे वह बस से उतरने के लिए जब अगले गेट पर पहुंचा तो उसे कुछ युवकों ने घेर लिया। स्टैंड आने पर वह जब बस से उतरा तो उसका बैग हल्का था। उसने पीठ से उतारकर बैग देखा तो लैपटॉप चोरी हो चुका था। उसने भागकर बस का पीछा भी किया, लेकिन लैपटॉप चोर उसे नहीं मिले।

जनकपुरी से उत्तम नगर के बीच अधिकांश वारदातें
इन घटनाओं को लेकर छानबीन कर रही पुलिस ने बताया कि अधिकांश वारदातें जनकपुरी से उत्तम नगर के बीच ही हुई हैं। इन जगहों पर चलने वाली बस संख्या 753, 761, 883, मेट्रो फीडर सेवा और आरटीवी के अंदर वारदातें हो रही हैं। इसके पीछे आसपास के ही किसी जेबतराश गिरोह का हाथ होने की आशंका पुलिस जता रही है। इनके अलावा मुखर्जी नगर, साउथ एक्स और मेट्रो के अंदर भी इस तरह की वारदातें हो रही हैं।

ऐसे करते हैं वारदात
वारदातों के पीडितों की मानें तो बस में चढ़ते एवं उतरते समय ही लैपटॉप चोरी किए जा रहे हैं। बस के गेट पर पांच से छह युवक पहले से ही खड़े रहते हैं। वहां से चढ़ने और उतरने के दौरान वह शिकार को घेरकर उसके बैग से लैपटॉप निकाल लेते हैं। पीडित को जब तक चोरी का पता चलता है बदमाश लैपटॉप लेकर फरार हो जाते हैं। बाद में बदमाश इन लैपटॉप को चार से पांच हजार रुपये में बेच देते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Placed on the back of the laptop bag is blown gang