DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खेल-ईसीए के लिए हर कॉलेज में ट्रायल

खेल-ईसीए के लिए हर कॉलेज में ट्रायल

डीयू में खेल और ईसीए कोटे का केंद्रीयकृत ट्रायल नहीं होगा। हर कॉलेज अपने स्तर पर ट्रायल आयोजित करेंगे। साथ ही, ट्रायल की तिथियां न टकराएं इसके लिए लगभग सभी कॉलेजों ने अलग-अलग तिथि पर ट्रायल आयोजित करने का फैसला किया है।

खेल कोटे में सबसे पहले फिटनेस टेस्ट होगा। फिटनेस टेस्ट विश्वविद्यालय आयोजित करेगा। कॉलेज अपने स्तर पर फिटनेस टेस्ट नहीं करेंगे। विश्वविद्यालय के फिटनेस टेस्ट का जो परिणाम जारी होगा उसे डीयू वेबसाइट पर जारी करेगा। छात्रों की फोटो के साथ परिणाम जारी होगा। इस परिणाम को सभी कॉलेज मान्यता देंगे। इसके आधार पर खेल कोटे का दूसरा चरण यानी ट्रायल शुरू होगा। ट्रायल कॉलेज करेंगे।

वहीं, ईसीए वर्ग में छात्राएं गीत-संगीत, नाटक, नृत्य, लेखन आदि कला में आवेदन कर सकती हैं। इसके बाद दो चरणों में ट्रायल होगा। जो पहले चरण में सफल होगा, उसे ही दूसरे व अंतिम चरण में भाग लेने का मौका मिलेगा।

खेल और ईसीए में कुल पांच फीसदी सीटें आरक्षित हैं। ईसीए कोटे के तहत सीट पाने के लिए पिछले तीन सालों के सर्टिफिकेट जमा कराने होंगे। वहीं, ईसीए के लिए सर्टिफिकेट की वेटेज 25 फीसदी अंक और ट्रायल की वेटेज 75 फीसदी अंक है। बता दें कि दोनों ही कोटे के तहत दाखिला प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। छात्रों को कॉलेज से फॉर्म से मिलेंगे।

तीरंदाजी, शतरंज  में एक टेस्ट पास करना जरूरी
तीन तरह के फिटनेस टेस्ट हैं। जो छात्र शतरंज, तीरंदाजी और शूटिंग वर्ग में आवेदन करेंगे उन्हें फिटनेस टेस्ट के तीन वर्गों में से किसी एक को पास करना होगा। इसके अलावा अन्य खेल के छात्रों को इन तीनों टेस्ट में से दो को पास करना जरूरी है। मसलन क्रिकेट, फुटबॉल और वॉलीबॉल समेत अन्य खेल के खिलाडियों को तीन में से दो टेस्ट पास करने होंगे। दरअसल, स्पोर्ट्स कोटे में दाखिले के लिए दो प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। पहले फिटनेस टेस्ट देना होता है। इसमें निश्चित समय में लंबी दौड़ और लंबी कूद जैसी प्रतियोगिता होती है। इनमें पास होना जरूरी होता है। दूसरी प्रकिया में ट्रायल देना होता है। ट्रायल उस खेल में होता है जिसके तहत आवेदन किया गया है। मसलन, क्रिकेट का ट्रायल व फुटबॉल आदि का ट्रायल।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Game-ECA in every college Trial