DA Image
20 अप्रैल, 2021|2:58|IST

अगली स्टोरी

अयोध्या विवाद: आदित्यनाथ बोले,दोनों पक्ष मतभेद सुलझाकर हल निकाले

अयोध्या विवाद: आदित्यनाथ बोले,दोनों पक्ष मतभेद सुलझाकर हल निकाले

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के अयोध्या विवाद के अदालत के बाहर निपटारा करने के सुझाव का स्वागत करते हुए कहा कि दोनों पक्षों को साथ बैठकर इसका हल करना चाहिये। 

सुप्रीम कोर्ट के नजरिये को ठोस बताते हुये आदित्यनाथ ने कहा, यह एक स्वागत योग्य कदम है। संसद भवन के बाहर पत्रकारों से बात करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा, हम इसका स्वागत करते हैं और दोनों पक्षों को अपने मतभेद सुलक्षा कर इसका हल निकालता चाहिये। उन्हें राज्य सरकार से जो भी सहयोग चाहिये, हम वो करेंगे।

राम जन्मभूमि मंदिर अयोध्या विवाद: पढ़ें 68 सालों का इतिहास?

अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिये भाजपा के घोषणा पत्र में भी शामिल था। आदित्यनाथ की यह टिप्पणी सुप्रीम कोर्ट के उस विचार के बाद आई कि अयोध्या मंदिर विवाद एक संवेदनशील और संवेदनात्मक मामला है क्योंकि इसमें सभी संबंधित पक्षों को साथ बैठकर इस विवादास्पद मामले का हल निकालने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें: CM योगी अयोध्या में रामायण संग्रहालय को मुफ्त देंगे 25 एकड़ जमीन

अगली स्लाइड में पढ़ें संसद में क्या बोले योगी आदित्यनाथ

अयोध्या विवाद: आदित्यनाथ बोले,दोनों पक्ष मतभेद सुलझाकर हल निकाले
अयोध्या विवाद: आदित्यनाथ बोले,दोनों पक्ष मतभेद सुलझाकर हल निकाले

 

इससे पहले उन्होंने उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार मंगलवार को लोकसभा में भाषण दिया।आदित्यनाथ योगी ने कहा कि उनकी सरकार सबका साथ, सबका विकास की प्रेरणा के साथ हर जाति, वर्ग, समुदाय और प्रत्येक क्षेत्र के विकास के लिए काम करेगी और प्रदेश के विकास का नया ढांचा खड़ा करेगी।

मुख्यमंत्री बनने के बाद वित्त विधेयक पर चर्चा में हिस्सा लेने आए गोरखपुर से बीजेपी सांसद आदित्यनाथ योगी ने कहा कि वर्ष 2014 के चुनाव के दौरान तमाम तरह की बातें कहीं जा रही थी जब मोदीजी लोगों के पास जा रहे थे और जब देश एवं अर्थव्यवस्था के समक्ष उत्पन्न विकट परिस्थितियों में उन्होंने प्रधानमंत्री पद का दायित्व संभाला था। लेकिन सभी को साथ लेकर चलते हुए प्रधानमंत्री ने जिस तरह से अर्थव्यवस्था और देश के विकास को गति प्रदान करने का काम किया, वह दुनिया के समक्ष आदर्श है।

ये भी पढ़ें: अयोध्या विवाद: SC बोला-आपस में सुलझाएं,जरूरत पड़ी तो करेंगे मध्यस्थता

उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में उत्तर प्रदेश में 300 से ज्यादा दंगे हुए लेकिन हमनें पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं होने दिया। उन्होंने कहा अब ऐसी ही व्यवस्था पूरे प्रदेश के लिए की जाएगी।आदित्यनाथ ने यूपी की पूर्व सरकारों पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली यूपी सरकारों ने केंद्र सरकार के द्वारा दिए गए फंड का पूरी तरह से उपयोग नहीं किया। उत्तर प्रदेश को केंद्र सरकार ने पिछले दो सालों में 2.5 लाख करोड़ रुपए दिए, लेकिन मात्र 78 हजार करोड़ ही रुपए खर्च हो पाए।

योगी ने संसद में बताया, कैसे वह 'राहुल - अखिलेश' के बीच में आए

अयोध्या विवाद: आदित्यनाथ बोले,दोनों पक्ष मतभेद सुलझाकर हल निकाले
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:up cm yogi adityanath give speech in loksabha