DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आमने सामने आईं सोमनाथ भारती की मां और पत्नी, हुआ हंगामा

आमने सामने आईं सोमनाथ भारती की मां और पत्नी, हुआ हंगामा

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष बरखा सिंह के घर लिपिका की प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उस समय हंगामा खड़ा हो गया, जब सोमनाथ भारती की मां मनोरमा और उनकी वकील वहां पहुंच गईं।

मनोरमा की वकील ने प्रेसवार्ता को टोकते हुए कहा कि शुरू से ही इस मुद्दे पर राजनीति की जा रही है। उधर, मनोरमा भारती ने दोहराया कि वह चाहती हैं कि बहू-बेटा खुश रहे। यदि मेरी वजह से परेशानी हो रही है तो मैं वृद्धाश्रम में रह लूंगी। हालांकि उन्होंने लिपिका से मिलने से इनकार कर दिया।

इससे पहले लिपिका ने तलाक की मांग की। इससे पहले प्रेस कांफ्रेंस के दौरान लिपिका ने कहा कि वह तलाक लेना चाहती हैं, चाहे वह कोर्ट के अंदर हो या आपसी सहमति से मिले।

चार पेज के ई-मेल में लिपिका ने पहली बार सोमनाथ के चरित्र पर भी आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा कि शादी से पहले शेफाली नाम की एक महिला के साथ उनका संबंध था। मगर मैंने इन बातों को गंभीरता से नहीं लिया। मुङो लगा कि वक्त के साथ सब ठीक हो जाएगा। मगर शादी के बाद भी उन्होंने कभी पति होने का फर्ज नहीं निभाया। अपनी दोनों बेटियों के एडमिशन और घर के सभी जरूरी काम उन्होंने खुद ही किए।

चुनाव के लिए सोमनाथ ने दिखाए थे झूठे दस्तावेज

लिपिका मित्र ने पूर्व कानून मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव आयोग के समक्ष दिए गए उनके दस्तावेज झूठे हैं। सोमनाथ ने चुनाव प्रक्रिया के दौरान कभी मुझसे बात नहीं की। मेरे हिस्से की जो संपत्ति और बैंक खाते दिखाएं हैं, उसके बारे में कभी मुझसे नहीं पूछा गया। साथ ही दस्तावेजों पर मेरे हस्ताक्षर भी गलत हैं। लिपिका ने कहा कि मुझे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से उम्मीद थी कि वह हमारे मामले में कुछ बोलेंगे। मगर उन्होंने मुङो नजरअंदाज कर दिया।

पुलिस के सामने उठाया था हाथ

उन्होंने कहा कि अक्टूबर, 2011 में वसंतकुंज थाने के बाहर सोमनाथ भारती ने पुलिस के सामने मुझ पर हाथ उठाया और पुलिस ने कुछ नहीं कहा। लिपिका ने कहा कि सोमनाथ भारती ने ट्वीट के जरिए कहा है कि बीते पांच साल से मेरे और उनके बीच किसी तरह के संबंध नहीं हैं। आखिर यह कहकर वह क्या कहना चाहते हैं? जबकि हमारी शादी के ही पांच साल हुए हैं। इसका सीधा मतलब है वह मेरे चरित्र पर प्रश्न उठा रहे हैं। पूर्व कानून मंत्री के इसी ट्वीट से आहत लिपिका ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष से बात की और अपनी बात मीडिया के सामने रखी।

हम तो घर बसाना चाहते हैं

इस बावत बरखा सिंह ने कहा कि हम तो घर बसाना चाहते हैं। मगर लिपिका के प्रति हमारी पूरी सहानूभूति है। लिपिका लंबे समय घरेलू हिंसा की शिकार हो रही थी। इसका जिम्मेदार सोमनाथ भारती की मां और उनका परिवार है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष बरखा शुक्ला सिंह ने कहा,"भारती ने लिपिका के चरित्र पर प्रश्न उठाया है, इससे पहले भी लिपिका ने अपनी शिकायत में इस बात का जिक्र किया था। यदि उन्हें लिपिका के चरित्र पर शक है तो डीएनए जांच करा सकते हैं।"

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आमने सामने आईं सोमनाथ भारती की मां और पत्नी, हुआ हंगामा