DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

MCI ने 14 नए मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी, उप्र में तीन कॉलेज खुलेंगे

MCI ने 14 नए मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी, उप्र में तीन कॉलेज खुलेंगे

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एमसीआई की सिफारिश पर देश में 14 नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना को हरी झंडी दिखा दी है। नए मेडिकल कॉलेजों के खुलने से इस बार एमबीबीएस की 1900 सीटें बढ़ जाएंगी। इसके अतिरिक्त छह कॉलेजों को पहली बार सीटें बढ़ाने की अनुमति दी गई है। इससे 290 एमबीबीएस सीटों का और ईजाफा होगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार डॉक्टरों की कमी से निपटने के लिए ज्यादा से ज्यादा सीटें सृजित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। जिन 14 नए कालेजों को मंजूरी दी गई है उनमें तीन कालेज उत्तर प्रदेश के हैं। इनमें सहारनपुर में शेख उल हिंद मौलाना हसन मेडिकल कालेज इसी सत्र से शुरू होगा। पहले साल इसमें एमबीबीएस की 100 सीटें होंगी। यह सरकारी कॉलेज होगा।

दो अन्य कालेज निजी संस्थाओं के हैं। सीतापुर में हिंद इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज कॉलेज खुलेगा, जिसकी क्षमता 150 सीटों की होगी। जबकि वाराणसी में हेरिटेज इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज को भी हरी झंडी मिल गई है जिसकी क्षमता 150 सीटों की होगी।

उत्तर प्रदेश में तीन नए कॉलेजों के खुलने से एमबीबीएस की चार सौ सीटें बढ़ी हैं। जबकि ग्रेटर नोएडा में शारदा यूनिवर्सिटी के मेडिकल कॉलेज स्कूल ऑफ मेडिसिन एंड साइंस एंड रिसर्च में सीटें बढ़ाई गई हैं। एमसीआई ने कालेज की सीटें 100 से बढ़ाकर 150 कर दी हैं।

गुरु रामराय मेडिकल कालेज में सीटें बढ़ी-देहरादून के गुरु रामराय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसे में भी सीटों की संख्या 100 से बढ़ाकर 150 कर दी गई हैं। बिहार के कॉलेज की सीटें बढ़ी-बिहार के माता गुजरी मेमोरियल मेडिकल कालेज किशनगंज में सीटें 60 से बढ़ाकर 100 करने को स्वीकृति प्रदान की गई है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MCI ने 14 नए मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी, उप्र में तीन कॉलेज खुलेंगे