DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चाइनीज भाषा में जेल की दीवारों पर क्या लिखता था सद्दीक? नक्शे भी मिले

चाइनीज भाषा में जेल की दीवारों पर क्या लिखता था सद्दीक? नक्शे भी मिले

मुरादाबाद जेल में राष्ट्रपति भवन के नक्शे और बांग्लादेश सीमा पर स्थित पुलिस चौकी का नक्शा बरामद होने के मामले में यूपी एटीएस ने छानबीन शुरू कर दी है। साथ ही मुरादाबाद पुलिस की एक टीम को भी पश्चिम बंगाल भेजा गया है।

जेल में राष्ट्रपति भवन का नक्शा बरामद होने की घटना ने हड़कंप मचा दिया है। खुफिया एजेंसियों समेत पुलिस अधिकारियों के यह समझ से परे है कि आखिर कैदी सद्दीक के पास नक्शा कैसे और किस मकसद से रखा था? क्या आतंकी संगठन के जरिये कोई साजिश रची जा रही है? इस संशय के मद्देनज़र यूपी एटीएस की टीम को छानबीन के लिए लगाया गया है। अब एटीएस सद्दीक का अतीत खंगाल रही है।

आईजी कानून-व्यवस्था ए.सतीश गणेश ने बताया कि इस नक्शे की बरामदगी के मद्देनज़र मुरादाबाद पुलिस का एक दल सद्दीक के गांव पश्चिम बंगाल भेजा गया है। वहां छानबीन की जाएगी कि सद्दीक के किससे रिश्ते थे?

बंग्लादेश के बार्डर पर है सद्दीक का पुश्तैनी घर

जेल में संदिग्ध दस्तावेजों के साथ पकड़े गए सद्दीक का पुश्तैनी घर बंग्लादेश के बार्डर पर दिनाजपुर के उत्तर में स्थित है। दिनाजपुर जिला हालांकि बंग्लादेश में है। इसके चलते उसका और उसके परिवार वालों का रोजाना बंग्लादेश आना जाना होता था। बार्डर पर बीएसएफ के कैंप से होकर वहां के लोग आते जाते हैं और उनकी आईडी भी चेक होती थी। यही नहीं, सद्दीक की बंग्लादेश में कई रिश्तेदारियां भी हैं।

बंग्ला और चाइनीज भाषा में भी लिखे संदेश

जेल की दीवारों पर सद्दीक ने बंग्ला के साथ ही चाइनीज भाषा में तमाम संदेश लिखे हैं। इन्हीं संदेशों को देखकर छापे के दौरान जेल गए अफसर ठिठक गए थे और उन्होंने सद्दीक के सामान की पूरी तलाशी ली थी। तब आपत्तिजनक दस्तावेज, नक्शे, पेन ड्राइव, मेमोरी चिप और एक टूटा सिमकार्ड बरामद हुआ था। सूत्रों की मानें तो सद्दीक जेल में मिलने आने वाले अपने परिजनों को भी बंग्ला और चाइनीज भाषा में चिट्ठी लिखकर देता था।

सद्दीक चलाता था जेल अस्पताल का कंप्यूटर

रजिस्टरों पर जेल अस्पताल का रिकार्ड अपडेट करने के साथ ही सद्दीक अस्पताल के कंप्यूटर भी आपरेट करता था। नवीं पास होने के बावजूद उसे तमाम वेबसाइटों के बारे में जानकारी थी। डाक्टर की गैरहाजिरी में वह कंप्यूटर पर इंटरनेट के जरिए मूवी देखता और गाने सुनता था। इंटेलिजेंस ब्यूरो जेल के इस कंप्यूटर के साथ ही बाकी कंप्यूटरों का भी पूरा डाटा खंगाल रही है। माना जा रहा है कि इसके बाद अहम जानकारी मिल सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चाइनीज भाषा में जेल की दीवारों पर क्या लिखता था सद्दीक? नक्शे भी मिले