DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुश्किल में मैगी: नेस्ले का विवादों से रहा है पुराना नाता

मुश्किल में मैगी: नेस्ले का विवादों से रहा है पुराना नाता

मैगी की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। भारत में कई राज्यों में प्रतिबंध लगने के बाद विदेश में भी मैगी की गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं। नेपाल के बाद सिंगापुर ने मैगी की बिक्री पर रोक लगा दी है। ब्रिटेन में सीसा और मोनोसोडियम ग्लुटामेट (एमएसजी) की जांच के लिए मैगी के नमूने इकट्ठे किए जा रहे हैं। आइए जानें, देश-दुनिया में मैगी पर मचे हड़कंप के क्या मायने हैं।

चस्के के मामले में चौथे भारतीय
2014 में बिक्री
चीन-हांगकांग: 44
इंडोनेशिया: 13.4
जापान: 5.5
भारत: 5.34
वियतनाम: 05
(नोट : आंकड़े अरब पैकेट में)

भारतीयों को क्या भाए
- 31.5 फीसदी है नूडल्स, सॉस और सूप की हिस्सेदारी भारत में नेस्ले उत्पादों की कुल बिक्री में
- 20 फीसदी सर्वाधिक बिक्री होती है मैगी की, 8.1 फीसदी की दर से इसमें हर साल हो रही वृद्धि
- 41.7 फीसदी दुग्ध-पौष्टिक उत्पादों, 12.2 फीसदी चॉकलेट-बेकरी उत्पादों और 9.2 फीसदी पेय पदार्थ की बीते साल दर्ज की गई बिक्री

मुनाफे पर मार
- 75 फीसदी के करीब है मैगी की हिस्सेदारी भारत के नूडल्स बाजार में
- 25 फीसदी से ज्यादा कमाई नेस्ले की मैगी की बिक्री से होती है भारत में
- 1,800 से 2,000 करोड़ रुपये के करीब नेस्ले ने मैगी से कमाए बीते साल
- 30 से 50 फीसदी गिरावट आई है मैगी की बिक्री में बीते एक हफ्ते में
- 33 फीसदी तक उत्पादन घटाने को मजबूर हुआ नेस्ले ताजा विवाद के बाद

उत्पादन और रोजगार
- 1983 में स्विस कंपनी नेस्ले ने भारतीय बाजारों में उतारा था 2 मिनट में पकने वाला इंस्टेंट नूडल्स
- भारत में पंजाब, गोवा, उत्तराखंड, कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में है नेस्ले का अपना मैगी प्लांट
- दिल्ली-पश्चिम बंगाल में कांट्रैक्ट पर कराती है उत्पादन, नेपाल-सिंगापुर जैसे देशों को होता है आयात
- 13 हजार करोड़ रुपये के आसपास है नेस्ले का टर्नओवर, 3 लाख भारतीयों के रोजगार का है जरिया

प्रतिबंधों का साया
- दिल्ली, बिहार, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, गुजरात, केरल, तमिलनाडु में लगी रोक
- सेना की कैंटीन और बिग बाजार व वॉलमार्ट के रिटेल स्टोर में भी मैगी की बिक्री हुई प्रतिबंधित
- उत्तर प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पंजाब जांच रिपोर्ट का कर रहे इंतजार

विवादों से पुराना नाता
- 1970 के दशक में नेस्ले के प्रचार में कंपनी के दुग्ध उत्पादों को मां के दूध से ज्यादा फायदेमंद बताने पर दुनिया भर में मचा हड़कंप
- 1990 के दशक में बोतलबंद पानी बेचने वाले 70 फीसदी ब्रांड के नेस्ले के नियंत्रण में होने का खुलासा, भूमिगत पानी के दोहन का लगा आरोप, पाकिस्तान में पानी की गुणवत्ता पर उठे सवाल
- 2012 में बाल मजदूरी में भी उछला नाम, आइवरी कोस्ट समेत कई क्षेत्रों के कोकोआ फार्म में 2.84 लाख बच्चे काम करते हुए मिले

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुश्किल में मैगी: नेस्ले का विवादों से रहा है पुराना नाता