DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

KEM अस्पताल का कमरा नंबर चार, अरुणा शानबाग के नाम

KEM अस्पताल का कमरा नंबर चार, अरुणा शानबाग के नाम

केईएम अस्पताल की नर्सों ने सोमवार को सहकर्मी अरुणा शानबाग को उनके जन्मदिन पर याद किया जिनका तीन हफ्ते पहले निधन हो गया था। अस्पताल प्रशासन ने कमरा संख्या चार का नाम उनके नाम पर रखने का फैसला किया जहां वह 42 वर्षों तक कोमा में रही थीं।

केईएम अस्पताल के डीन डॉक्टर अविनाश सुपे ने बताया, हमने कमरा संख्या चार का नाम अरुणा के नाम पर रखने का निर्णय किया है। कमरे का इस्तेमाल लोगों और कर्मचारियों के लिए किया जाएगा। अस्पताल की नर्स शानबाग से 1973 में एक वार्ड ब्वाॠय ने बलात्कार किया था जिसके बाद वह इसी कमरे में कोमा में रहीं। वार्ड ब्वॉय ने उनका गला कुत्ता बांधने की जंजीर से कस दिया था जिससे वह हमेशा के लिए कोमा में चली गईं।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:KEM अस्पताल का कमरा नंबर चार, अरुणा शानबाग के नाम