DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजा ने अवैध रूप से टूजी स्पेक्ट्रम आवंटित किया

राजा ने अवैध रूप से टूजी स्पेक्ट्रम आवंटित किया

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विशेष अदालत में कहा है कि पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा ने अपात्र फर्मों को 2जी स्पेक्ट्रम लाइसेंस अवैध रूप से प्रदान किए। इसके बदले में 200 करोड़ रुपये कथित रूप से कलैइग्नार टीवी को स्थानांतरित किए गए। यह टीवी द्रमुक प्रमुख एम करुणानिधि के परिवार का है।

टूजी घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में अंतिम बहस शुरू करते हुए विशेष लोक अभियोजक आनंद ग्रोवर ने आरोप लगाया कि इस मामले में साजिश राजा व अन्य ने रचा तथा 200 करोड़ रुपये अपराध से मिला धन था। उन्होंने दावा कि कि विभिन्न फर्मों की ओर से कलैइग्नार टीवी को धन का स्थानांतरण किया गया और यह तभी लौटाया गया जबकि सीबीआई ने राजा को टूजी स्पेक्ट्रम मामले में पूछताछ के लिए बुलाया।

ग्रोवर ने सीबीआई के विशेष जज ओ पी सैनी की अदालत ने कहा कि कलैइग्नार टीवी का स्वामित्व कनिमोझी (द्रमुक सांसद) व दयालु अम्मल (एम करुणानिधि की पत्नी) के पास था।

ग्रोवर ने यह भी कहा कि टीवी चैन को धन विभिन्न कंपनियों के जरिए एक घुमावदार रास्ते से स्थानांतरित किए गए। अगली सुनवाई 27 जुलाई को होगी। इस मामले में राजा, कनिमोझी, दयालु अम्मल व 16 अन्य सुनवाई का सामना कर रहे हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले साल 25 अप्रैल को आरोपियों के खिलाफ मनी लांड्रिंग निरोधक कानून के तहत अभियोग लगाते हुए आरोप पत्र दायर किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजा ने अवैध रूप से टूजी स्पेक्ट्रम आवंटित किया