DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक दिन में 15 सौ यात्री ही जा पाएंगे केदारनाथ

एक दिन में 15 सौ यात्री ही जा पाएंगे केदारनाथ

केदारनाथ धाम की यात्रा में इस बार पहले महीने में एक दिन में पंद्रह सौ यात्री ही केदारनाथ के दर्शन कर सकेंगे। बाद में हालात को देखते हुए यह संख्या बढ़ाई जा सकती है।

चारधाम यात्रा की पहली बैठक लेते हुए डीएम डॉ राघव लंगर ने कहा कि 24 अप्रैल से शुरू होने वाली केदारनाथ यात्रा के लिए इस बार और बेहतर प्रयास किये जा रहे हैं। कलक्ट्रेट सभागार में यात्रा से जुड़े विभागों के साथ ही संबंधित स्वयं सेवी संस्थाओं की बैठक में डीएम ने यात्रा के बारे में कई निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने 15 अप्रैल तक केदारनाथ यात्रा व्यवस्थाओं की तैयारी पूरी करने को कहा है। केदारनाथ में यात्रियों को अच्छी व्यवस्थाएं मिलें, इसके लिए अप्रैल महीने में प्रतिदिन 15 सौ यात्रियों को ही केदारनाथ जाने की अनुमति दी जाएगी। बिना बॉयोमेट्रिक रजिस्टे्रशन के कोई भी यात्री केदारनाथ नहीं जाएगा जबकि बॉयोमेट्रिक रजिस्टेशन करने वाली त्रिलोक संस्था को इस बार यात्रियों के चेक इन और चेक आउट की जानकारी भी रखनी होगी। इससे जिला प्रशासन को हर दिन यह जानकारी रहेगी कि यात्रा मार्ग और पड़ावों में कितने यात्री ठहरे हैं। यह हर दिन अपडेट किया जायेगा।

सिरोबगड़ से सोनप्रयाग तक हाईवे पर लोनिवि एनएच डिविजन को 15 अप्रैल तक काम पूरा करना होगा। इसके लिए 3 करोड़ 31 लाख के टेंडर शीघ्र शीघ्र निकालने के लिए कहा गया है। सोनप्रयाग से गौरीकुंड तक डीडीएम के तहत काम होना है इसके भी निर्देश जारी कर दिये गए। बॉयोमेट्रिक पंजीकरण के लिए गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग और केदारनाथ में रजिस्ट्रेशन सेंटर बनाए जाएंगे, जिन्हें इंटरनेट से जोड़ने का भी प्रयास किया जाएगा। हवाई यात्रा से आने वाले यात्रियों का भी पंजीकरण किया जाएगा। स्थानीय लोग जिनमें व्यापारी, तीर्थपुरोहित और मीडिया शामिल है, के लिए त्रिलोक एजेन्सी छह माह का वैलेडिटी पास बनाएगी।

यह भी निर्णय लिया गया कि इस बार सोनप्रयाग से गौरीकुंड के लिए सटल सेवा नहीं होगी, बल्कि यात्री पर अपना वाहन गौरीकुंड तक ले जा सकेंगे। इसके लिए लोक निर्माण को यात्रा शुरू होने से पूर्व सोनप्रयाग से गौरीकुंड तक मार्ग सुचारु करने के निर्देश दिए हैं। निर्देशों पर लापरवाही बरतने पर संबंधित विभागाध्यक्ष को प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाएगी। इस अवसर पर एसपी बरिन्दरजीत सिंह, सीडीओ एचबी थपलियाल, एडीएम राहुल गोयल, डीडीओ सुनील कुमार, सीएमओ डॉ आरपी बडोनी, डिप्टी कलक्टर देवमूर्ति यादव, एसडीएम सीएस चौहान, यूएस चौहान, लक्ष्मीराज चौहान सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

केदारनाथ यात्रा
- बीआरओ के अफसर रहे बैठक से नदारद, डीएम ने दिए नोटिस देने के निर्देश
- सोनप्रयाग में बनेगा पुलिस चेक पोस्ट, यात्रा के लिए डिप्टी कलेक्टर देवमूर्ति यादव तैनात
- यात्रा में आम नागरिक, यात्री की आवाजाही प्रभावित करने पर एसडीएम करेंगे सीआरपीसी की धारा 133 का इस्तेमाल
- सोनप्रयाग से गौरीकुंड तक नहीं चलेगी सटल सेवा
- जवाड़ी बाई पास पर बनेगा सुविधाओं से लैस पुलिस बैरियर
- पहली बार होगी यात्री के चेक इन और चेक आउट की जानकारी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक दिन में 15 सौ यात्री ही जा पाएंगे केदारनाथ