class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इन 2 भारतीय महिलाओं ने किया ऐसा कारनामा, सबके लिए बन गईं मिसाल

इन 2 भारतीय महिलाओं ने किया ऐसा कारनामा, सबके लिए बन गईं मिसाल

1/2 इन 2 भारतीय महिलाओं ने किया ऐसा कारनामा, सबके लिए बन गईं मिसाल

भारूलता कांबले बन गई हैं मिसाल..

महिलाएं किसी से कम नहीं ये तो आपने खूब सुना होगा लेकिन 2 भारतीय महिलाओं ने ऐसा कारनामा कर दिखाया है जिससे ये पूरी दुनिया के लिए मिसाल बन गई हैं। पहली हैं हैदराबाद की रहने वालीं पर्वतारोही नेल्लिमा पुडोता जिन्होंने ब्रेस्ट कैंसर के प्रति अवेयरनेस फैलाने के लिए विजयवाड़ा से विशाखापत्तनम तक करीब 350 किलोमीटर तक नंगे पांव दौड़ लगाई। ऐसे ही मिसाल बन गईं दूसरी महिला हैं, प्रवासी भारतीय भारूलता कांबले। कांबले ने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' मिशन के तहत लंदन से भारत तक करीब 32,000 किलोमीटर का लंबा सफर अपनी कार से तय कर सबको चौंका दिया है।

जानिए कौन हैं भारूलता कांबले
भारूलता गुजरात के नवसारी की रहने वाली हैं जो अब ब्रिटेन में रह रहीं हैं। उन्होंने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' मिशन के तहत लंदन से भारत तक करीब 32,000 किलोमीटर का सफर अपनी कार के जरिए तय किया है। गुजरात के नवसारी जिले की रहने वाली प्रवासी भारतीय इस महिला ने अकेले ही लंदन से भारत तक सफर तय किया है। आपको बार दें कि भारूलता ने ये काम भारत में लड़कियों के लिए एक बेहतरीन अस्पताल खोलने का सपना पूरा करने के लिए किया है। बता दें कि वो बीती वह आठ नवंबर को मणिपुर के मारेह चौक पहुंची थीं। इस दौरान उन्होंने नौ पर्वतमालाओं, तीन बड़े मरुस्थल और दो महाद्वीप पार किये। उनकी इस यात्रा को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में शामिल किया जायेगा।

कितना वक़्त लगा इस यात्रा में
करीब 32 देशों की यात्रा करने के बाद भारत पहुंचने वाली 43 वर्षीय भारूलता कांबले का कहना है कि इस यात्रा को तय करने में उन्हें कुल 57 दिन का समय लगा और करीब 32 देशों के लोगों से उनका संपर्क हुआ है। इस यात्रा के दौरान उन्होंने 32 देशों में इसका संदेश पहुंचाया है। भारूलता कांबले बताती हैं कि इस यात्रा के दौरान उन्होंने नवसारी में एक बेहतरीन अस्पताल खोलने के लिए इन 32 देशों से फंड भी इकट्ठा किया है। उन्होंने बताया कि नवसारी में उन्होंने अपने दादा को अस्पताल में अपनी आंखों के सामने दम तोड़ते देखा है, क्योंकि वहां आधुनिक चिकित्सा सुविधाएं नहीं थीं। उन्होंने कहा कि वह ऐसी पहली महिला हैं, जिसने 57 दिन में 32 हजार किमी का सफर तय किया है।

अगली स्लाइड में जानिए कौन हैं नेल्लिमा पुडोता...

Next
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:inspirations for all know about neillima pudota and bharulata kamble