class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान दक्षिण एशिया में अस्थिरता फैलाना बंद करे: भारत

पाकिस्तान दक्षिण एशिया में अस्थिरता फैलाना बंद करे: भारत

हिजबुल कमांडर वुरहान वानी के मारे जाने पर कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए पाकिस्तान द्वारा 19 जुलाई को काला दिवस मनाने पर भारत ने कड़ा रुख अपनाया है। भारत ने पाकिस्तान को फिर चेताया है कि वह उसके आंतरिक मामलों में दखल देना और आतंकवाद व अन्य गतिविधियों में सहयोग करके दक्षिण एशिया में हालात को अस्थिर करना बंद करे।

आतंकियों का महिमामंडन कर रहा पाक
विदेश मंत्रालय ने आतंकवादियों का महिमामंडन जारी रखने को लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि यह स्पष्ट करता है कि पाकिस्तान की उनके प्रति सहानुभूति बनी हुई है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि जम्मू कश्मीर में हालात पर पाकिस्तान के कैबिनेट के फैसलों को भारत पूरी तरह और स्पष्ट रूप से खारिज करता है।

 

बाहरी पक्ष को दखल का अधिकार नहीं
स्वरूप ने कहा कि हम अपने आंतरिक मामलों में पाकिस्तान की ओर से दखल दिए जाने के प्रयासों से निराश हैं। उन्होंने कहा कि हम फिर दोहराते हैं कि हमारे आंतरिक मामलों में पाकिस्तान या किसी दूसरे बाहरी पक्ष का कोई अधिकार नहीं बनता।
स्वरूप ने कहा जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा के उस पार से भारत में सुनियोजित घुसपैठ और आतंकवाद की घटनाओं के बाद पाकिस्तान हालिया घटनाक्रमों से राजनीतिक लाभ लेने में जुटा है।

पाक से रचनात्मक जवाब की उम्मीद
प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान के अवैध कब्जे के तहत आने वाले क्षेत्रों में तथाकथित चुनावों से जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ खुद को जोड़ने के लिए पाकिस्तान की कई ताकतों द्वारा किया जा रहा कोई भी प्रयास कभी  सफल नहीं होगा। स्वरूप ने कहा कि भारत यह भी उम्मीद करता है कि पाकिस्तान शांति और द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने के लिए उठाए गए कदमों का रचनात्मक ढंग से जवाब देगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:india rejects decisions taken by cabinet of pak on kashmir violence celebrating black day