govt depts sitting on graft inquiries railways on top cvc - भ्रष्टाचार के मामलों को दबाने में रेलवे है अव्वलः सीवीसी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार के मामलों को दबाने में रेलवे है अव्वलः सीवीसी

भ्रष्टाचार के मामलों को दबाने में रेलवे है अव्वलः सीवीसी

विभिन्न सरकारी विभागों में बड़ी संख्या में भ्रष्टाचार के मामले दबे पड़े हैं और ऐसे सबसे ज्यादा मामले रेलवे के पास हैं। केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) के आंकड़ों में यह तथ्य सामने आया है। इन आंकड़ों के मुताबिक रेलवे में भ्रष्टाचार के 730 मामले, जिनमें से 350 मामले विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से संबंधित हैं उनका निबटारा नहीं हो सका है। भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) में ऐसे 526 मामले, इंडियन ओवरसीज बैंक में 268 मामले और दिल्ली सरकार में ऐसे 193 मामले लंबित हैं। स्टेट बैंक में भ्रष्टाचार के कुल 164 मामले, बैंक ऑफ बड़ौदा में 128 मामले और बैंक ऑफ महाराष्ट्र में ऐसे 82 मामले लंबित हैं।

पंजाब नेशनल बैंक में कम से कम 100 मामले अनुशासनात्मक जांच के लंबित हैं, सिंडिकेट बैंक में 91 मामले, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 50 मामले, केंद्रीय लोक निमार्ण विभाग में 47 मामले, प्रसार भारती में 41 मामले, कॉपोर्रेशन बैंक में 36 मामले, एयर इंडिया में 26 मामले, इंडियन ऑयल कॉपोर्रेशन लिमिटेड में 30 मामले और प्रधानमंत्री कायार्लय में दो मामले लंबित हैं।
    
भ्रष्टाचार के मामलों में जांच को गति प्रदान करने के लिए भ्रष्टाचार निरोधी निगरानी संस्था ने यह पहल शुरू की। इसके लिए सीवीसी ने विभिन्न सरकारी विभागों से तय प्रारूप में वरिष्ठ तथा कनिष्ठ स्तर के कर्मचारियों से जुड़े भ्रष्टाचार के लंबित मामलों की जानकारी मांगी थी। आयोग को 290 संगठनों से जानकारी प्राप्त हुई थी और इन आंकड़ों में 31 दिसंबर, 2016 तक लंबित मामलों की जानकारी शामिल हैं।

आयोग ने सभी विभागों के प्रशासनिक अधिकारियों को अनुशासनात्मक कार्रवाईयों को जल्द से जल्द अंतिम रूप देने का निर्देश दिया था। सीवीसी ने सभी विभागों को जारी निर्देश में कहा कि बार-बार कहे जाने के बावजूद यह देखा गया है कि अनुशासनिक अधिकारियों द्वारा इस ओर पर्याप्त ध्यान नहीं दिया जा रहा जिससे इन मामलों के निबटारे में अत्यधिक विलंब हो रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:govt depts sitting on graft inquiries railways on top cvc