DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशखबरी: एक जुलाई से ट्रेन में सुहाना हो जाएगा आपका सफर

खुशखबरी: एक जुलाई से ट्रेन में सुहाना हो जाएगा आपका सफर

रेल मंत्रालय ने एक जुलाई से राजधानी, शताब्दी, दुरंतो और मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों की तर्ज पर 'सुविधा ट्रेन' चलाने का फैसला किया है। इतना ही नहीं देश के कुछ प्रमुख रेल मार्गों पर डबल डेकर सुविधा ट्रेनें भी चलाई जाएंगी। इसका मकसद यात्रियों को दलालों के चंगुल से बचाना और थोड़ा अधिक किराया देकर आरक्षित सीट पर आरामदेह सफर मुहैया कराना है।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को सभी जोनल रेलवे को ओदश जारी कर दिया है। इसमें कहा गया है कि पहली जुलाई से अधिक भीड़ वाले रेल मार्गों पर तीन प्रकार की सुविधा ट्रेनें चलाई जाएंगी। राजधानी सुविधा ट्रेनें पूर्ण रूप से वातानकुलित ट्रेनें होंगी। यह ट्रेनें सभी प्रमुख स्टेशनों पर रुकेंगी। जबकि दुरंतो सुविधा ट्रेनें (पूर्ण वातानकुलित) नॉन स्टाप ट्रेनें होंगी। इनका कॉमर्शियल ठहराव होगा, लेकिन रास्ते में बुकिंग की सुविधा नहीं होगी। इसी प्रकार मेल-एक्सप्रेस सुविधा ट्रेनों में एसी-1,2,3 व स्लीपर कोच होंगे। जिसमें यात्री टिकट बुक करा सकेंगे।

उन्होंने बताया कि कई रेल मार्गों पर अधिक भीड़ होने पर डबल डेकर सुविधा ट्रेनें (पूर्ण वातानकुलित) चलाने का प्रस्ताव है। राजधानी, शताब्दी, दुरंतो व मेल-एक्सप्रेस सुविधा ट्रेनों का किराया अधिक होगा। इसलिए रेलवे प्राथमिकता के आधार पर उनको समय पर गंतव्य पहुंचाएगी। इसी प्रकार सुविधा ट्रेनों के कोच नए व अधिक साफ सुथरे होंगे। यात्रियों के खानपान का भी विशेष ख्याल रखा जाएगा।

अधिक किराया देना होगा
रेल मंत्रालय ने सुविधा ट्रेनों में राजधानी, शताब्दी, दुरंतो, मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों के मूल किराए के साथ तत्काल चार्ज लेने का फैसला किया है। इसके साथ ही टे्रन में हर बार 20 फीसदी बुकिंग के बाद बेसिक मूल किराए में डेढ़ गुना से लेकर तीन गुना तक बढ़ोतरी होती जाएगी। उदाहरण के लिए सुविधा ट्रेन के एसी-1 में राजधानी का बेसिक किराया, तत्काल चार्ज लिया जाएगा। लेकिन ट्रेन की एसी-1 में 40 फीसदी टिकट बुकिंग के बाद बेसिक किराया डेढ़ हो जाएगा। इसके पश्चाता 60 फीसदी बुकिंग के बाद बेसिक किराया दो गुना, 80 फीसदी बुकिंग के बाद 2.5 गुना व 80-100 फीसदी बुकिंग के समय बेसिक किराया तीन गुना लिया जाएगा।

प्रीमियम ट्रेनों की जगह लेंगी
रेल मंत्रालय ने प्रीमियम ट्रेनों के स्थान पर सुविधा ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है। एक जुलाई से प्रीमियम ट्रेनें पूर्ण रूप से बंद हो जाएंगी। उनके स्थान पर सुविधा ट्रेनें चलेंगी। प्रीमियम ट्रेनों में टिकट रद्द कराने पर पैसा वापस नहीं मिलता था। लेकिन सुविधा ट्रेनों में टिकट रद्द कराने पर किराए की 50 फीसदी वापसी होगी। इसके अलावा एसी-2 पर 100 रुपये, एसी-3 पर 90 रुपये व स्लीपर क्लास में 60 रुपये प्रति यात्री पैसे कटेंगे। यात्री को ट्रेन छूटने के छह घंटे पहले रिफंड के लिए आवेदन करना होगा। इसके पश्चात रिफंड नहीं दिया जाएगा। सुविधा ट्रेन में वेटिंग टिकट नहीं दिया जाएगा। टिकट बुकिंग 10 से 30 दिन पहले करायी जा सकेगी। उक्त ट्रेनों में रेलवे की ओर से दी जाने वाली रियायत लागू नहीं होगी।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Indian railways to relaunch premium train service as Suvidha trains