DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मणिपुर: उग्रवादियों के हमले के बाद मणिपुर पहुंचे सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग

मणिपुर: उग्रवादियों के हमले के बाद मणिपुर पहुंचे सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग

मणिपुर में उग्रवादियों द्वारा सुरक्षाबलों पर हुए हमले के बाद शुक्रवार को सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह सुहाग मणिपुर पहुंच गए हैं और इसके बाद राज्य में मौजूद सुरक्षाबलों ने राज्य में अपना अभियान तेज कर दिया है।

सुहाग इस मामले की पूरी जानकारी ले रहें हैं और उन्हें कमांडर और शीर्ष पुलिस अधिकारी घटना के बारे में जानकारी दे रहे हैं,  सुहाग के अनुसार उग्रवादियों के खिलाफ दीर्घकालिक और लक्षित अभियानों की योजना पर काम किया जा रहा है। वहीं मणिपुर के चंदेल जिले में उग्रवादियों की धरपकड़ के लिए आज व्यापक खोज अभियान जारी है जहां उग्रवादियों के हमले में कल सेना के 18 जवान शहीद और 11 अन्य घायल हो गए थे।

पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि सेना के जवानों पर हमला करने वाले उग्रवादियों की धरपकड़ के लिए पारालोंग, चरोंग, मोल्तुह और कुछ अन्य इलाकों में खोज अभियान चलाया जा रहा है।

उन्होंने हालांकि यह नहीं बताया कि क्या कल हुई घटना के सिलसिले में किसी को गिरफ्तार या हिरासत में लिया गया है। सूत्रों ने बताया कि खोज अभियान सेना और असम राइफल्स द्वारा चलाया जा रहा है।

दो दशक में इस तरह के सबसे भीषण हमले में उग्रवादियों ने कल मणिपुर के चंदेल जिले में सेना के काफिले पर घात लगाकर हमला किया था जिसमें कम से कम 18 जवान शहीद और 11 अन्य घायल हो गए।

सेना और नागरिक प्रशासन के अधिकारियों को संदेह है कि हमले के पीछे मणिपुर के उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए और कांगलेई यावोल कन्ना लुप (केवाईकेएल) का हाथ है, जिन्होंने बारूदी सुरंगों, रॉकेट चालित ग्रेनेडों और स्वचालित हथियारों का इस्तेमाल किया।

सेना के काफिले पर जिस क्षेत्र में हमला हुआ, वह भारत-म्यामां सीमा से करीब 15-20 किलोमीटर की दूरी पर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After Army ambush, massive combing operation underway to track insurgents in Manipur