अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुनियाभर में 30 करोड़ लोग डिप्रेशन के शिकार : डब्ल्यूएचओ

दुनियाभर में 30 करोड़ लोग डिप्रेशन के शिकार : डब्ल्यूएचओ

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया में 30 करोड़ से ज्यादा लोग डिप्रेशन का शिकार हैं।

डब्ल्यूएचओ ने विश्व स्वास्थ्य दिवस से पहले गुरुवार को हेल्थ से जुडे़ आंकड़े जारी करते हुए कहा है कि डिप्रेशन से जुड़ें आंकड़े चौंकाने वाले हैं और यह दुनिया की सरकारों के लिए चेतावनी है कि वह लोगों मानिसिक स्वास्थ के बारे में ध्यान दें और इस समस्या के समाधान के लिए काम करें।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, डिप्रेशन से ग्रस्त लोगों की संख्या 2005 से 2015 के बीच 18 फीसदी से ज्यादा बढ़ी है। रिपोर्ट के अनुसार, अवसाद से हर साल हजारों लोगों की मौत हो जाती है।

'प्लास्टिक वाला अंडा': कहीं आप भी तो नहीं खा रहे हैं ऐसे अंडे

सेहत से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डिप्रेशन से पीड़ित में सुधार के लक्षण

डब्ल्यूएचओ में मेंटल हेल्थ के डायरेक्टर डॉ शेखर सक्सेना का कहना है सबसे पहले तो बिना किसी पूर्वाग्रह के डिप्रेशन से पीडि़त का इलाज कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर कोई शख्स अवसाद से ग्रसित है और अपने किसी करीबी पर भरोसा कर रहा है, उससे बात करने की कोशिश कर रहा है तो समझिए कि उसकी सेहत में सुधार हो रहा है।

अमीर देशों में भी 50% लोगों को नहीं मिलता इलाज

रिपोर्ट में कहा गया है कि डिप्रेशन के लिए इलाज मिलना आज सबसे बड़ी चुनौती बन गया है। हैरानी बात तो यह है कि अमीर देशों में भी  50 फीसदी लोगों को इलाज नहीं मिल पाता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:300 million people of world suffring from depression says who