DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के कांट्रेक्ट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, सभी होंगे नियमित

बिहार के कांट्रेक्ट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, सभी होंगे नियमित

शहर के आईबी में शुक्रवार की सुबह स्वास्थ्य मंत्री रामधनी सिंह ने कहा कि राज्य में सभी कांट्रैक्ट कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा। यह बात पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कह चुके हैं कि अब कोई भी बहाली कांट्रैक्ट पर नहीं होगी। कांट्रैक्ट कर्मचारियों को नियमित करने के लिए कमेटी बनाई गई है। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में यह कमेटी बनी है। कमेटी दो माह में अपनी रिपोर्ट देगी। इसके आधार पर नियमित करने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल को असामाजिक तत्वों द्वारा जलाने के मामले की जांच कराई जाएगी। अस्पताल में महत्वपूर्ण रिपोर्ट जलने के मामले पर स्वास्थ्य मंत्री ने सीएस से पूछा कि अस्पताल में कागजात जले थे या जलाये गए थे। इस पर सीएस ने कहा कि यह जांच से स्पष्ट हो सकेगा। मंत्री ने कहा कि  इस सीएस को हटाने के बाद ही जांच कराना ठीक होगा।

उन्होंने सदर अस्पताल में पानी की समुचित व्यवस्था नहीं होने पर नाराजगी जताई और सीएस को तत्काल पानी की व्यवस्था करने का निर्देश दिया। सदर अस्पताल में इमरजेंसी को बिना टेंडर के डेवलप करने के मामले को भी गंभरता से लिया। सीएस से पूछा कि इस पर होने वाले खर्च कौन वहन करेगा और कितनी राशि खर्च होगी। सीएस के जवाब से असंतुष्ट मंत्री ने  निर्माण कराने वाली एजेंसी से स्टीमेट मांगने का निर्देश दिया।

सदर अस्पताल में बने आईसीयू को चालू नहीं होने पर भी नाराजगी जताई। सीएस ने बताया कि विशेषज्ञ डॉक्टरों की कमी से चालू नहीं कराया गया है। उन्होंने कहा कि अभी तक जितनी भी बार विभाग से विशेषज्ञ डॉक्टरों की मांग की गई है, उसकी तिथिवार उल्लेख करते हुए मेरे पटना पहुंचते ही  फैक्स करें। मंत्री ने सदर अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया। इस मौके पर विधान पार्षद शिवप्रसन्न यादव, सीएस डॉ. अनिल कुमार चौधरी, जदयू नेता मंसूर आलम व जितेश सिंह आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार के कांट्रेक्ट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, सभी होंगे नियमित