DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पति निकला हत्यारा, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद

मामला पाकबड़ा के गम्मनपुरा गांव का है। गांव में महिला गीता की शादी वीर सिंह के पुत्र विनोद के साथ 2002 में हुई थी। शादी के बाद ससुराल में दहेज को लेकर विवाद रहने लगा। आरोप है कि विनोद अपनी पत्नी से एक लाख रुपये की मांग करने लगा। इसे लेकर पति अपनी पत्नी पीटता था। बताते है कि गीता के पिता ने 25 हजार रुपये का इंतजाम भी किया। इस बीच 21 सितंबर, 12 को गांव में मुरारीलाल को बेटी गीता की मौत की खबर मिली। आरोप है कि 75 हजार रुपये न मिलने पर विनोद और अन्य लोगों ने उसकी गला दबाकर शव खेत में फेंक दिया। मुरारीलाल ने महिला के पति, जेठ, सास-ससुर, देवर आदि के खिलाफ मुकदमा कायम कराया। फास्ट ट्रैक कोर्ट-प्रथम एडीजे सत्य प्रकाश द्विवेदी की अदालत में मामले की सुनवाई हुई। मामले में एडीजीसी रेशम बेगम और रंजीत सिंह राठौर ने दहेज के लिए मारने और पुलिस रिपोर्ट के आधार पर सजा देने की मांग की। शनिवार को कोर्ट ने मामले में पति को दोषी करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Husband killed, court sentenced to life