अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमरोहा के सतेड़ा गांव अग्निकांड पीड़ितों को सौंपे 7.60 लाख के चेक

अग्निकांड पीड़ितों की ओर नेता, प्रशासन, समाजसेवी लोगों ने खुलकर मदद के हाथ बढ़ाए हैं। विधायक व तहसील प्रशासन ने शुक्रवार शाम पीड़ित 59 परिवारों को 7 लाख 61 हजार 100 रुपए की धनराशि के चेक सौंपे तो इससे पूर्व जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के पीडी समेत विकास विभाग के अधिकारियों ने गांव पहुंचकर भरोसा दिलाया कि सभी पीड़ितों को पक्के मकान बनाकर दिए जाएंगे। पेयजल व रोशनी की व्यवस्था भी की जा रही है। बुधवार को चूल्हे की चिंगारी सेगांव के 49 कच्चे घर राख के ढेर में तब्दील हो गए थे। 35 पशुओं की मौके पर मौत हो गई थी। 16 पशु झुलसे थे, जिनका उपचार चल रहा है। एक ट्रैक्टर-ट्राली, 20 डीजल इंजन आग में जले थे। उक्त घरों में रखी खाद्य सामग्री, कपड़े, पैसे, आभूषण समेत अन्य सामान आग की भेंट चढ़ गए। ग्रामीणों का कहना है कि अग्निकांड में 2 करोड़ से अधिक का नुकसान हुआ था।

भाजपा विधायक महेंद्र खड़गवंशी लखनऊ से लौटते ही सुबह सतेड़ा की मढैया गांव पहुंच गए। खुले आसमान के नीचे रात गुजारने वाले परिवारों की समस्या को देखते हुए पीडी डीआरडीए मिथलेश तिवारी, वन क्षेत्राधिकारी शीतल पंवार, स्वास्थ्य विभाग की टीम, बीडीओ गजेंद्र कुमार समेत संबंधित विभागों के अधिकारियों को बुला लिया। मौके का मंजर देखकर हर किसी का दिल द्रवित हो गया। पीडी ने कहा कि तहसील प्रशासन पीड़ित परिवारों की रिपोर्ट बनाकर दे। जिससे कि जल्द से जल्द प्रधानमंत्री आवास योजना से पक्के मकान बनाकर दिए जा सकें। हर घर में शौचालय बनवाने समेत अन्य सहूलियतें देने पर भी मंथन हुआ। विधायक ने शनिवार तक गांव में दो इंडिया मार्का हैंडपंप लगवाने व तीन सोलर लाइट लगवाने की घोषणा की। वन क्षेत्राधिकारी ने फिलहाल सिर ढंकने के लिए छप्पर तैयार करने को फूंस व बल्लियों की व्यवस्था करने का वादा किया। उधर शाम के वक्त तहसीलदार अमित कुमार भारतीय व विधायक महेंद्र खड़गवंशी फिर गांव पहुंचे। बुधवार को अग्निकांड में पशु, घर समेत कुल जमा पूंजी गंवाने वाले 59 परिवारों को प्रशासन की ओर से 7 लाख 61 हजार 100 रुपए की धनराशि के चेक सौंपे। दो पीड़ितों को 60-60 हजार व 10 को 30-30 हजार रुपए तथा बाकी को बीस बीस हजार से कम धनराशि के चेक दिए। एसडीएम गम्भीर सिंह ने बताया कि पीड़ितों को शासन की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिलाया जाएगा।

स्वयंसेवी संगठन व समाजसेवी लोग पीड़ितों को खाने-पीने, कपड़े व रोजमर्रा की जरूरत की वस्तुएं उपलब्ध करा रहे हैं। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुकेश अग्रवाल के नेतृत्व में राकेश अग्रवाल, गिरधारीलाल सैनी, अंकुर अग्रवाल, विनीत अग्रवाल, यश, शिखर आदि ने गांव पहुंचकर पीड़ित परिवारों को चावल, चीनी, आटा, आलू, बिस्कुट, चाय की पत्ती, कपड़े, कंबल व माचिस आदि सामग्री का वितरण किया। नुसरत अली एडवोकेट, जाहिद अली, साबिर सैफी व कुलदीप कुमार ने भी आटा-दाल व अन्य खाद्य सामग्री बांटी। प्रशासन की ओर से भी कंबल व गेहूं बांटा गया। एसडीएम ने समाजसेवी संगठनों से व्हाट्सग्रुप पर मैसेज के जरिए मदद की गुहार लगाई थी। बताया जा रहा है कि आसपास के गांवों के लोग व पीड़ितों के दूसरे गांवों में निवास करने वाले रिश्तेदार भी खाने-पीने का सामान लेकर पहुंच रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Checks of 7.60 lakhs handed to fire victims