DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिले में दवा की 20 फर्म सीबीआई की रडार पर

अस्पतालों में दवा, सर्जिकल और केमिकल सप्लाई करने वाली 20 से ज्यादा फर्म सीबीआई की रडार पर हैं। सीबीआई ने कैंट अस्पताल में दवा घोटाले के दौरान जिन फर्मों ने सप्लाई की इनका सारा रिकार्ड खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग से मांगा गया हैं। सीबीआई का पत्र कार्यालय में पहुंचे ही एफडीए कार्यालय में हड़कप मच गया है। पत्र मिलने के बाद पूरा महकमा सीबीआई की सूची में शामिल 20 फर्मों का रिकार्ड तैयाकर करने में जुट गया है।

वर्ष 2008 में कैंट अस्पताल में दवा, सर्जिकल और केमिकल की खरीदारी में 40 लाख रुपये से ज्यादा का घोटाले का खुलसा हुआ था। दवा के खरीद-फिरोख्त समेत अन्य आइटम के रिकार्ड में गोलामाल मिला था। अस्पताल में कई नामी दवा सप्लाई करने वाली फर्मों शामिल थी। एक के बाद एक अस्पताल में घोटाले की पोल खुलती चली गई। मामला कैंट अस्पताल का था तो मुख्यालय तक हलचल शुरू हो गई। घोटाले की जांच सीबीआई को दी गई। इस मामले में सीबीआई की टीम ने कई बार जांच के लिए मेरठ में डेरा डाल चुकी है। इस मामले की जांच के लिए सीबीआई का कई बार शहर में आना जाना लगा रहता है। सीबीआई इस मामले की सालों से जांच में लगी है।

सूत्रों की मानें तो अब इस घोटाले की जांच अंतिम स्टेज में पहुंच गई है। अस्पताल में जिन फर्मों ने सप्लाई की इनके रजिस्ट्रेशन करने से लेकर कारोबार करने तक में कौन से मानक पूरे किये अब सीबीआई इसी जांच में जुट गई है। जिन फर्मों की रिपोर्ट मांगी इनका दवा का मोटा कारोबार है। एफडीए ने जिन फर्मों की जानकारी मांगी गई इसको रिकार्ड तैयार करने में जुट गया है। जल्द ही पूरा रिकार्ड तैयार का सीबीआई के हवाले कर दिया जाएगा।

वर्जन

सीबीआई की ओर से जिले में संचालित हो रही 20 फर्मों का रिकार्ड मांगा गया हैं। इनका रिकार्ड तैयार कर सीबीआई को जल्द ही उपलब्ध कराया जाएगा।

- राजेश श्रीवास्तव,

सहायक औषधि आयुक्त मेरठ मंडल

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:20 drug chemists in the district on CBI radar