DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सहारनपुर हिंसा : रात में दबिश देकर दो युवकों को उठाने पर जुटी भीड़, हंगामा

एसएसपी आवास और पुलिस लाइन में प्रदर्शन इमरान मसूद भी रहे शामिल निर्दोषों को छोड़ा नहीं गया तो जेल भरो आंदोलन की चेतावनी सहारनपुर। हमारे संवाददाता सहारनपुर हिंसा के दोषियों पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया। बुधवार रात पुलिस ने दबिश देकर भीम आर्मी से जुड़े दो युवकों को हिरासत में लिया। इसका एक पक्ष ने विरोध करना शुरू कर दिया। रात को ही भीड़ एसएसपी आवास पहुंच गई और प्रदर्शन किया। सुबह भी अनेक लोगों ने कलक्ट्रेट और पुलिस लाइन पहुंचकर अपना विरोध जताया। सहारनपुर हिंसा के दोषियों पर कार्रवाई करने के लिए लगातार दबाव बन रहा था। पुलिस ने बुधवार रात थाना सदर बाजार क्षेत्र के हसनपुर और जनकपुरी क्षेत्र के जनता रोड स्थित गांव चकहरेटी से भीम आर्मी के दो युवकों को हिरासत में लिया। जैसे ही इसकी खबर लगी तो लोगों की भीड़ एसएसपी आवास पर पहुंच गई। लोगों ने पुलिस पर निर्दोषों के खिलाफ कार्रवाई करने का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन किया। एसएसपी आवास पर देर रात तक प्रदर्शन चलता रहा, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद लोग एसएसपी आवास से लौट गये और गुरुवार सुबह पुलिस लाइन में प्रदर्शन किया। एसएसपी बबलू कुमार का कहना है कि पुलिस ने युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था, पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं दो युवकों को हिरासत में लेने की सूचना पर गुरुवार सुबह भीड़ ट्रैक्टर-ट्राली लेकर पुलिस लाइन पहुंच गई और जमकर प्रदर्शन किया। कांग्रेस नेता इमरान मसूद और उत्तर प्रदेश महिला अधिकार मंच की अध्यक्ष पुनीता गौतम भी पहुंचे। इमरान मसूद और पुनीता गौतम ने पहले कलक्ट्रेट में डीएम से मुलाकात की और बाद में एसएसपी से मुलाकात कर निर्दोंषों के खिलाफ कार्रवाई न करने की मांग की। उन्होंने कहा कि शब्बीरपुर में हुई जातीय हिंसा के बाद पुलिस ने निर्दोष युवकों को गिरफ्तार किया है। कुछ लड़के तो ऐसे हैं जो घटना के दिन सहारनपुर में भी नहीं थे, लेकिन पुलिस ने सभी को उठाकर जेल भेज दिया। 23 मई की घटना के बाद भी युवकों को झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश महिला अधिकार मंच ने चेतावनी दी है कि यदि पुलिस ने निर्दोष लड़कों को नहीं छोड़ा तो संगठन आंदोलन करने को मजबूर होगा। संगीता तेगवाल, विमला, सुरेशो, बाला, सुशीला, सीमा, लता, बत्ती, रीना आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ेकिह